News Vox India
धर्मशहर

वीर सावरकर नगर का शिवमंदिर लोगों की आस्था का मुख्य केंद्र ,जानिए इस मंदिर के बारे में  

बरेली। यह मंदिर वीर सावरकर नगर के मध्य गायत्री पुरी पार्क में स्थित है। इस मंदिर की जमीन गायत्री पुरी आवास सहकारी समिति ने दान की और सर्व समाज को सेवा करने के लिए समर्पित कर दी। यहां के लोगों को कहना है कि यहां पर प्राचीन थान बना हुआ था। जिस पर शिवलिंग रखा हुआ था और लोग आकर के शिव को मानकर ही जल चढ़ाते थे। 1995 में इस मंदिर का जीर्णोद्धार यहां के लोगों ने सहयोग से कराया गया। एवं शिवलिंग की प्राण प्रतिष्ठा की गई। इस मंदिर में नौ देवी, हनुमान जी, भैरव आदि की मूर्तियां हैं। जिनकी दिव्यता सौंदर्यता देखते ही बनती है। जिसको देखने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं। और सबसे खास बात तो यह है। कि यहां पर नवग्रहो की प्रतिमाएं विद्यमान हैं।

Advertisement

 

 

 

लोग ग्रह शांति के भाव से भी खूब आते हैं।वीर सावरकर नगर में इकलौता एक ऐसा मंदिर है जहां हजारों परिवार जुड़े हुए हैं। सावन के महीने में यहां भक्तों का तांता लगा रहता है। लोग हरिद्वार, कछला आदि दूरगामी नदियों से जल भरकर लाते हैं और भोलेनाथ को चढ़ाते हैं। लोगों का कहना है कि यहां हर मुराद पूरी होती है। यहां से कोई निराश नही लौटता। वर्तमान में इस मंदिर का नए स्वरूप में निर्माण हो रहा है। कुछ दिनों के बाद यह इतना भव्य मंदिर होगा कि जो नाथ नगरी में अपनी अलग ही पहचान रखेगा।

 

 

 

 

-केहरी सिंह पटेल, अध्यक्ष

मैं इस मंदिर की 1995 से सेवा कर रहा हूं। उस सेवा का फल यह है कि भगवान ने सभी दुख दूर किए और हमारे मनोरथ पूर्ण किए। आज भगवान की कृपा से हम कुशलता भी है और संपन्नता भी। हम और हमारा परिवार इन्हीं के लिए समर्पित है।

 

 

संजीव गुप्ता उर्फ बबलू ,शिव भक्त

हम जब भी घर से बाहर जाते हैं। तो इनके दर्शन करके ही जाते हैं। आज तक हमारे सारे काम सफल हुए भोलेनाथ की हमारे हमारे परिवार के ऊपर विशेष कृपा है। शिवलिंग के स्पर्श मात्र से ही सुखद अनुभूति होती है।

 

 

 

 

 

Related posts

कुंवारा पंचमी पर करें आज अविवाहित पितरों का श्राद्ध ,जानिए क्या कहते हैं सितारे,

newsvoxindia

20 सितंबर का दैनिक राशिफल : इन राशियों पर रहेगी गणेश जी की खास कृपा , जानिए राशिफल,

newsvoxindia

आला हज़रत के भाई हसन रज़ा खां का मनाया गया उर्स

newsvoxindia

Leave a Comment