News Vox India
नेशनलशहर

विधायक के आवास पर साड़ी का वितरण, इरफान बोले- यही साड़ी खरीदने कोलकाता आया था,

कांग्रेस के जामताड़ा

Advertisement
 विधायक इरफान अंसारी कैश कांड को लेकर इन दिनों कोलकाता में रह रहे हैं. उन्हें कोलकाता हाईकोर्ट ने कैश कांड मामले में तीन माह तक वहीं पर रहने पर निर्देश दिया है. दूसरी तरफ इरफान अंसारी के निर्देश पर उनके विधानसभा क्षेत्र स्थित आवास पर जरूरतमंदों के बीच वस्त्र (साड़ी) का वितरण किया जा रहा है. इसे लेकर इरफान ने एक ट्वीट भी किया है. साथ ही उनका दर्द भी झलका है. उन्होंने सोशल मीडिया में लिखा है कि इसी साड़ी के लिए उन्हें एक साजिश के तहत कोलकाता में रोक दिया गया. लेकिन इस दौरान उनके परिवार वाले और कार्यकर्ताओं ने उनका खूब साथ दिया. इसी साथ के कारण उनके नहीं रहने के बाद भी गरीबों के बीच निरंतर सेवा जारी है.

साजिशकर्ता को अगर यह सब दिख रहा है, तो वे देखें और सबक लें

इरफान ने कहा कि आज उनके समर्थन में हजारों-हजार की संख्या में जनसैलाब उमड़ पड़ा है, जो उनके लिए लोगों का प्रेम और आस्था को दिखाता है. साजिशकर्ताओं को अगर यह सब दिख रहा है तो वह देखें और सबक लें. वह अपने मंसूबे में सफल तो नहीं हो पाए. एक बात और. मैं जल्द आ रहा हूं. मां दुर्गा की कृपा आप सभी पर बनी रहे.

कहा – अपनी आदिवासी, दलित बहनों के लिए साड़ी खरीदने आया था

बता दें कि बीते जुलाई माह के अंत में खुफिया सूचना के आधार पर बंगाल सीआईडी ने झारखंड कांग्रेस के तीन विधायकों को (जामताड़ा के विधायक इरफान अंसारी, खिजरी के विधायक राजेश कच्छप और कोलेबिरा के विधायक नमन बिक्सल कोंगाड़ी) को पकड़ा था. इनके पास से कैश 49 लाख रुपए मिले थे. बाद में यह मामला कैश कांड के नाम से चर्चित हुआ. कांड को लेकर तीनों विधायकों के खिलाफ हाईकोर्ट में मामला चला. जांच में इरफान ने बताया था कि विश्व आदिवासी दिवस (9 अगस्त) को अपने-अपने क्षेत्र के आदिवासी, दलित, अल्पसंख्यक बहनों के लिए साड़ी खरीदने वे लोग कोलकाता आए थे. लेकिन साजिश के तहत तीनों को फंसाया गया.

Related posts

भाजपा सरकार में महिलाओं को सुविधा -सुरक्षा के साथ सम्मान मिला :वीर सिंह पाल 

newsvoxindia

नगर पालिका की ज़मीन पर हो रहे अवैध कब्जे को कराया गया ध्वस्त

newsvoxindia

अशरफ के दो गुर्गे गिरफ्तार , बिना पर्ची के अशरफ से करते थे मुलाकात

newsvoxindia

Leave a Comment