News Vox India
धर्मशहर

ऑल इंडिया मुस्लिम जमात के मौलाना शहाबुद्दीन बने अध्यक्ष  ,

 

बरेली : आला हज़रत के 104वें उर्से रज़वी के उपलक्ष्य में सुन्नी-सूफी बरेलवी मुसलमानों को एक अखिल भारतीय स्तर की मुस्लिम जमात की सौगात मिली है. नबीरे आला हज़रत मौलाना मन्नान रज़ा ख़ान-मन्नानी मियां के आवास स्थित नूरी मरकज़ में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में इसके गठन का ऐलान किया गया है. ये संगठन मुसलमान समाज के बीच धार्मिक, सामाजिक, शैक्षिक और सियासी जागरुकता आदि क्षेत्रों में काम करेगा.

Advertisement

सून्नी-सूफ़ी बरेलवी विचार के प्रचारक और मुस्लिम स्कॉलर मौलाना शहाबुद्दीन रज़वी को ऑल इंडिया मुस्लिम जमात का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है. इस मौके पर मौलाना ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि, आज मुसलमानों के हालात सामने हैं. उनके अधिकारों को लेकर आवाज़ उठाने की ज़रूरत है. सुरक्षा, सम्मान, संवैधानिक अधिकार सुनिश्चित कराने के मक़सद से इसका गठन किया गया है. देशव्यापी मुहिम चलाकर बुद्धिजीवी, उलमा, क़ानूनविदों को जोड़ने की कोशिश करेंगे.मौलाना शहाबुद्दीन रज़वी ने यह भी कहा कि, इसको लेकर पहले से ही तमाम बुद्धिजीवियों के साथ मीटिंग्स की जा चुकी हैं. हमारी कोशिश है कि समाज और इंसानियत के लिए काम करने के ख़्वाहिशमंद लोगों को जमात से जोड़ेंगे.

 

आला हज़रत ने हमेशा मुहब्बत का पैग़ाम आम किया है. ऑल इंडिया मुस्लिम जमात उनके उसी पैग़ाम को आगे बढ़ाने के लिए पूरी ज़िम्मेदारी के साथ काम करेगी.हम समाज के सबसे कमजोर लोगों, पीड़ित, जरूरतमंदों के बीच जाएंगे, और उन्हें दुख-तकलीफ़ को बांटेंगे. आज मुश्किल ये हो चुकी है कि एक ऐसे बड़े वर्ग को उपेक्षित छोड़ दिया गया है. उनके सिर पर कोई हाथ रखने वाला नहीं है. आला हज़रत के तमाम बुजुर्ग हमेशा ऐसे कमजोर लोगों के बीच रहते थे.  मौलाना ने कहा कि हमारी ख़ुशनसीबी है कि आला हज़रत के उर्स के मौक़े पर हमे एक जमात के अध्यक्ष की ज़िम्मेदारी मिली है. ये बड़ा काम है और इस पर खरा उतरना चुनौती भी है, लेकिन उम्मीद है कि आला हज़रत ने शिक्षा, इश्क़ और इंसानियत का जो परचम उठाया था, हमारा समाज उसे आगे बढ़ाता रहेगा. ऑल इंडिया मुस्लिम जमात हर एतबार से मुस्लिम समाज की सुरक्षा, सम्मान, संवैधानिक अधिकार, शिक्षा, स्वास्थ्य और क़ानूनी सहायता के लिए काम करेगी. इस दौरान कई उलमा, सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद रहे.

 

मौलाना मन्नानी मियां ने कहा कि, एक ज़िम्मेदारी शहरी के तौर पर लोगों के दिलों को जोड़ना, हमारी जिम्मेदारी है. दिल तोड़ने का वक़्त ख़त्म हो रहा है और दिल जोड़ने की मुहिम चलेगी. मौलाना शहाबुद्दीन आला हज़रत के मिशन के प्रचारक हैं. समाज के बीच सक्रिय रहकर एक सामाजिक कार्यकर्ता की भी जिम्मेदारी निभा रहे हैं, इसलिए उन्हें इस जमात के अध्यक्ष का जिम्मा सौंपा गया है.  ऑल इंडिया मुस्लिम जमात, आला हज़रत के उर्स के बाद राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय कार्यकारिणी गठित करेगी.

Related posts

विवाहिता ने देवर पर लगाया छेड़खानी और मारपीट का आरोप

newsvoxindia

चैत्र नवरात्रि से होगी नववर्ष की शुरुआत , जानिए कैसा रहेगा आपके लिए नववर्ष

newsvoxindia

बदायूं : मुठभेड़ के बाद गौवध करते दो अभियुक्त गिरफ्तार, घटना में सिपाहियों को लगी गोली ,

newsvoxindia

Leave a Comment