News Vox India
धर्मनेशनलयूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहरस्पेशल स्टोरी

लाइव रिपोर्ट : फागुन की पूर्णिमा पर निकली ‘वर्ल्ड हेरिटेज’ में शामिल “राम बारात”, जमकर उड़ा रंग

सचिन श्याम भारती , धार्मिक रिपोर्टर 

Advertisement

बरेली। बमनपुरी से आज 164 वीं रामलीला की ऐतिहासिक रामबारात निकाली गई। इस मौके पर हजारों लोग भगवान राम की इस बारात के साक्षी बने। होली औऱ बारात के मौके पर हुरियारों ने एक दूसरे से जमकर मोर्चा लिया। यूपी का बरेली जिला उन शहरों में शुमार रखता है जहां की होली विरासत के रूप में अपनी पहचान रखती है। यही वजह है कि होली के मौके पर दूर दूर से होली के रंग में रंगने के लिए अपने करीबियों के यहां बरेली आते है। बरेली में होली के मौके पर दुनिया की ऐतिहासिक और इकलौती राम लीला होती है। इसकी शुरुआत ब्रिटिश काल मे 1861 में शुरू हुई थी तबसे ये यहां लगातार हो रही है और फागुन की पूर्णिमा यानी छोटी होली वाले दिन राम बारात निकाली जाती है। जो शहर के विभिन्न इलाकों से होकर गुज़रती है।

 

 

इस दौरान पूरा शहर होली के रंगों में सराबोर हो जाता है। 2008 में यूनेस्को ने इस रामलीला को वर्ल्ड हेरिटेज की लिस्ट में शामिल किया था। 2015 में बरेली की होली वाली रामलीला को विश्व धरोहर भी घोषित किया गया। रामलीला का खास आयोजन राम बारात होती है। राम बारात फागुन की पूर्णिमा (छोटी होली) वाले दिन राम बारात निकाली जाती है। राम बारात में प्रभु श्री राम की झांकी, भगवान नरसिंह की झांकी के अलावा सैकड़ो खुले ट्रालो में बड़े बड़े ड्रमों में रंग भरकर रखा जाता है। सभी ट्रालो पर सैकड़ो हुरियारे होते है जो बड़े बड़े पम्पो से एक दूसरे पर रंगों की बौछार करते है। बरेली की होली पर ये रामबारात अपने आप मे इसलिए और खास हो जाती है क्योंकि यहां शहर के मुख्य चौराहों पर हुरियारों के ऊपर लोग रंगों की बरसात करते है तो कहीं कहीं पर मुस्लिम समुदाय के लोग फूलों से राम बारात का स्वागत करते है। आज ये ऐतिहासिक बारात पूरे वैभव और उल्लास के साथ निकली। कहीं फूलों की बरसात हुई तो कहीं गुलाल उड़ाकर राम बारात का उत्साहपूर्वक स्वागत हुआ। ब्रह्मपुरी से पारंपरिक तरीके से पूजा- अर्चना के बाद रथ में श्रीराम की झांकी निकली और आगे बाजे गाजे के साथ नाचते झूमते हुरियारों की टोली।

 

 

 

सर्वप्रथम खत्री महासभा के अध्यक्ष अनुपम कपूर ने श्रीराम की आरती उतारी। सभा के अध्यक्ष सर्वेश रस्तोगी, डॉक्टर विनोद पागरानी सहित समस्त पदाधिकारियों ने विधि विधान से पूजन किया और जय श्री राम के जयकारों से इलाका गूंज उठा। जगह जगह रंगों की जबरदस्त मोर्चाबंदी हमेशा की तरह उत्साह के रंग में सराबोर रही। राम बारात के दौरान कड़े सुरक्षा के इंतजाम दिखे और संवदेनशील क्षेत्रों में फोर्स भी तैनात रही। बड़ी ब्रह्मपुरी से शुरू हुई राम बारात बिहारीपुर ढाल, कुतुब खाना, जिलाअस्पताल, नावल्टी चौराहा, रोडवेज, बरेली कॉलेज, कालीबाड़ी, श्यामगंज, सिकलापुर, मठ की चौकी, कुतुबखाना, बड़ा बाजार, साहूकारा, किला, सिटी स्टेशन से डलाव वाली मठिया होती हुई बमनपुरी के नरसिंह मंदिर पर समाप्त हुई। रास्ते भर सभी पदाधिकारी शामिल रहे।

Related posts

रुहेलखंड विवि के प्रबंधन विभाग में 7 दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की हुई शुरुआत,

newsvoxindia

ईद की नमाज़ में मुसलमान मुल्क में अमन व शांति और तरक्की के लिए ख़ास दुआ करे : मौलाना कैफ रजा खाँ क़ादरी,

newsvoxindia

एसडीएम की गैरमौजूदगी में रात्रि चौपाल एक घंटे में निपटी।

newsvoxindia

Leave a Comment