News Vox India
यूपी टॉप न्यूज़शहरस्वास्थ्य

बदायूं: मेडिकल कालेज की एसआइसीयू में चूहे ने मरीज का पैर कुतरा, प्राचार्य ने दिए जांच के आदेश,

,

पंकज गुप्ता,

यूपी : बदायूं मेडिकल कालेज की एसआइसीयू में भर्ती एक मरीज के पैर को चूहों ने कुतर दिए । मरीज एसआइसीयू में बेहोश की हालत में भर्ती था । मरीज के परिजनों ने पीड़ित को एक्सीडेंट होने के बाद घायल होने पर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया था । मरीज रामसेवक को 30 जून को बदायूं मेडिकल कालेज में भर्ती कराया था । मरीज राम सेवक राजकीय मेडिकल कालेज के एसआइसीयू में वेंटीलेटर पर भर्ती है । मामला चर्चा में आते ही चूहे काटने के मामले में मेडिकल कालेज के प्राचार्य ने जांच बैठा दी है।

 

 

 

तीमारदारों के मुताबिक 30 जून को राम सेवक गुप्ता को मेडिकल कालेज में भर्त्ती कराया था । एक्सीडेंट से रामसेवक के सर में चोट लग गई थी । सर में गंभीर चोट लगने के बाद मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान एसआइसीयू भर्ती रामसेवक को 3 से 4 दिन पहले चूहे ने पैरों में कुतर दिया था और मेडिकल कॉलेज के स्टाफ में इस बात को छुपाते हुए मरीज की मरहम पट्टी कर दी थी । जब यह मामला मीडिया के सामने आया तब मेडिकल कॉलेज में हड़कंप मच गया । इस मामले में घायल मरीज रामसेवक के भाई राम गुप्ता का कहना है कि तीन-चार दिन पहले चूहों ने उनके भाई के पैरों में काट लिया था और काफी जगह काटने के बाद खून निकलना शुरू हो गया था जिसके बाद एसआइसीयू के स्टाफ ने भाई की मरहम पट्टी कर दी थी ।मेडिकल कॉलेज में बहुत चूहे हैं। कहां से चूहे आ गए इस बात की जानकारी नहीं है ।

 

दातागंज के बुध बाजार निवासी रामसेवक गुप्ता सात जून को दुर्घटना में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। परिजनोंने दिल्ली में उपचार कराया और सुधार नहीं हुआ । 30 जून को उन्हें स्थानीय बदायूं मेडिकल कालेज के वेंटीलेटर पर रखा गया । मरीज को चूहों ने पैरों को कुतर दिया और लापरवाह स्टाफ सोता रहा । बताया जा रहा है कि मरीज के कान, माथे पर भी कुछ जख्म है । मामले पर मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ एनसी प्रजापति का कहना है यह पूरा मामला सीएमएस मेडिकल कॉलेज के अंडर का है । क्योंकि मामला गंभीर है इसलिए इस मामले की पूरी जांच 48 घंटे में पूरी हो जाएगी ,कौन स्टाफ तैनात था और किसने लापरवाही की इसकी जांच की जा रही है । वही प्रचार्य ने यह भी बताया कि चूहे मेडिकल कॉलेज में निर्माण होने के चलते है और कुछ मरीज के तीमारदार खाना बहिन खाते हैं इस वजह से चूहे आ जाते है । संभावना इस बात की भी है कि ऑक्सीजन पाइप लाइन के जरिए चूहे पहुंचे होंगे, जिसे रिपेयर कराया जा रहा है ।

Related posts

जीडीएस पब्लिक स्कूल की स्नो रस्तोगी को जिले में मिला चौथा स्थान

newsvoxindia

राजश्री ग्रुप ने मनाया अपना 14 वां स्थापना दिवस, एसएसपी ने स्टाफ सहित सभी को दी बधाई,

newsvoxindia

अज्ञात वाहन की टक्कर से बुजुर्ग की मौत

newsvoxindia

Leave a Comment