News Vox India
यूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहर

संतोष के अपमान के मुद्दे पर कुर्मी समाज ने बुलाई आपातकालीन बैठक !

बरेली । सरदार पटेल कुर्मी क्षत्रिय छात्रावास पर कुर्मी समाज ने गुरुवार को एक आपातकालीन बैठक बुलाई गई, जिसमें बीते दिनों हुई बरेली के भाजपा के खेमे में अंदरूनी कलह पर चर्चा की गई। बता दें कि मेयर के तथाकथित वायरल ऑडियो ने संतोष गंगवार के समर्थकों में आक्रोश भर दिया था जिसमें आरोप था कि महापौर ने वरिष्ठ भाजपा नेता संतोष गंगवार को लेकर आपत्तिजनक टीका टिप्पणी की थी , जिसके बाद समर्थकों द्वारा भाजपा प्रदेश अध्यक्ष का घेराव करते हुए हंगामा किया गया था।

Advertisement

 

 

 

कुर्मी समाज द्वारा इस बैठक में चर्चा के दौरान कहा गया कि कुर्मी समाज पर और उनके वरिष्ठ नेता पर इस तरह की आपत्तिजनक टिप्पणी बर्दाश्त के बाहर है। कुर्मी समाज द्वारा कहा कि अगर मेयर द्वारा इस्तीफा नहीं दिया गया तो कुर्मी समाज हाई कमान तक जाकर अपनी बात रखेगा और सड़कों पर आने के लिए मजबूर होगा।

 

 

 

 

सरदार पटेल कुर्मी क्षत्रिय समाज के अध्यक्ष के. पी. सेन गंगवार ने कहा कि संतोष गंगवार कुर्मी समाज के ही नेता न होकर अपितु सर्व समाज के लोकप्रिय नेता हैं। संतोष गंगवार भाजपा का वो चेहरा हैं जो 8 बार बरेली की सीट को भाजपा की झोली में डाल चुके हैं।

 

 

उपाध्यक्ष रघुवीर सिंह गंगवार ने कहा कि संतोष गंगवार भाजपा के लिए तब से समर्पित हैं जब से भाजपा के कई बड़े चेहरों का पार्टी में नाम तक नहीं शामिल था। उन पर और कुर्मी समाज पर कोई टिप्पणी बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

 

 

 

वहीं महामंत्री मूलचंद गंगवार ने कहा कि मेयर द्वारा इस अपत्तिजनक टिप्पणी से कुर्मी समाज में आक्रोश है, एक ही दल के नेता द्वारा अपने ही दल के वरिष्ठ नेता पर इस टिप्पणी का क्या मतलब हो सकता है, इससे साफ जाहिर होता है कि कुर्मी समाज के वरिष्ठ नेता के प्रति पार्टी के अंदर ही षड्यंत्र रचा जा रहा है, जबकि संतोष गंगवार स्वयं का टिकट कटने के बाद भी लगातार नए प्रत्याशी के लिए वोट की अपील कर रहे है, और चुनाव कार्यालय का भी उद्घाटन भी अपने हाथों से कर रहे हैं।

 

 

 

 

बरेली लोकसभा क्षेत्र में इस बार 23 लाख से ज्यादा मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। राजनीतिक दलों से मिली जानकारी के मुताबिक इसमें कुर्मी करीब छह लाख, कश्यप डेढ़ लाख, मौर्य डेढ़ लाख व वैश्य पौने दो लाख हैं। बाकी अन्य वर्ग के वोटर हैं। वहीं पीलीभीत की अगर बात की जाए तो पीलीभीत जिले में सदर विधानसभा क्षेत्र में लगभग 60 से 70 हजार, बीसलपुर विधानसभा क्षेत्र में 70 से 80 हजार, बरखेड़ा विधानसभा क्षेत्र में लगभग 30 हजार कुर्मी मतदाता हैं। पूरनपुर विधानसभा क्षेत्र में नाम मात्र के कुर्मी हैं। इस लोकसभा क्षेत्र में शामिल बरेली के बहेड़ी विधानसभा क्षेत्र में लगभग 85 हजार कुर्मी मतदाता हैं।

 

 

 

प्रेस वार्ता में खेमेन्द्र गंगवार , एडवोकेट मनोज गंगवार ,तेजपाल गंगवार, मूलचंद गंगवार ,राम औतार गंगवार, कृष्णपाल गंगवार ,आर. सी.लाल गंगवार ,ममता गंगवार ,पंकज गंगवार ,अरविंद गंगवार, मोहित गंगवार, बबलू पटेल ,आदित्य प्रकाश ,एडवोकेट सुनील वर्मा, विशाल गंगवार, वैभव गंगवार, हिमांशु गंगवार ,अंशुल गंगवार, मीडिया प्रभारी देश दीपक गंगवार मौजूद रहे।

Related posts

आला हज़रत के भाई हसन रज़ा खां का मनाया गया उर्स

newsvoxindia

गुरु तेग बहादुर सिंह की जयंती पर सद्भाव संगोष्ठी का हुआ आयोजन,

newsvoxindia

Breaking : सपा के पूर्व मंत्री आजम खान के विरुद्ध एफआईआरदर्ज

newsvoxindia

Leave a Comment