News Vox India
यूपी टॉप न्यूज़शहरस्पेशल स्टोरी

पुलिस से बचने के लुटेरों ने  भगवान को चढ़ाया 101 रुपये का प्रसाद , सीसीटीवी कैमरे ने खोली पोल

बरेली :  बरेली की प्रेम नगर पुलिस ने हार्टमैन पुल पर किप्स के सेल्स मैनेजर से हुई लूट का खुलासा  करते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार किया हैं ।  पुलिस ने आरोपियों के पास से लूटे गई रकम में से 34 हजार रुपए और घटना में इस्तेमाल की गई दो बाइकों को बरामद किया हैं। बताया यही भी जा रहा है कि  लुटेरों ने  पुलिस की गिरफ्त से बचने के लिए भगवान के लिए 101 का प्रसाद  चढ़ाने के साथ  बंदरों  को चने भी खिलाये पर पुलिस की गिरफ्त से नहीं बच पाए।

Advertisement

 

 

प्रेमनगर पुलिस ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि 15 अक्टूबर को अभिषेक गंगवार (21 )पुत्र वीरेन्द्र पाल निवासी राजनगर , थाना बारादरी ,प्रशांत शर्मा पिता धर्मेंद्र शर्मा निवासी शांति विहार मणिनाथ , थाना सुभाषनगर , अभिषेक कुमार राघव(28 ) पुत्र जयकुमार निवासी शांति विहार थाना सुभाषनगर ,सचिन पुंडीर पिता राकेश कुमार निवासी सेक्टर 47 नॉएडा , फरार मोहित यादव पुत्र नन्हे निवासी शान्ति विहार कॉलोनी थाना सुभाषनगर ने किप्स सेल्स मैनेजर एक लाख 10 रूपए की उस समय लूट की थी जब वह किप्स सेल्स सिविल लाइन्स पर अपने साथी विजय यादव के साथ कैश जमा करने जा रहे थे , तभी हार्टमैन पुल पर चार युवक दो नई बाइकों से आगे पीछे मोटरसाइकिल लगाकर एक लाख 10 हजार कैश से भरा बैग छीनकर भाग गए।  इसके बाद मामले जांच पुलिस ने शुरू की तो सर्विलांस और सीसीटीवी कैमरों की मदद से घटना को अंजाम देने वाले ट्रेस हो गए इसके बाद एक मुखबिर की सूचना पर सभी अभियुक्तों को  इज़्ज़त नगर रेलवे के स्टेशन के पीछे से गिरफ्तार कर लिया गया।

 

 

अभिषेक राघव ने बनाई थी लूट की योजना प्रेम नगर पुलिस के मुताबिक अभिषेक राघव ने किप्स के सेल्स मैनेजर से लूट की योजना बनाई थी , उसने ही दो दिन तक लूट के संबंध में रेकी की थी।  अभिषेक पूर्व में किप्स एजेंसी पर नौकरी भी किया करता था।  उसने लूट की योजना में अपने ममेरे भाई सचिन को भी शामिल किया था।  इसके बाद उसने लूट की घटना को अंजाम देने के लिए अभिषेक गंगवार , प्रशांत शर्मा , मोहित को  भी शामिल किया था।

 

लूट सफल होने के बाद की शानदार पार्टी 

जब अभिषेक राघव पार्टी लूट की घटना सफल हो गई तो इसके बाद पांचों दोस्तों ने 21 -21 हजार बांटे , इसके बाद बचे 5 हजार रूपए में ब्रांडिड शराब लेने के साथ बंदरों को चने और भंडारे में दान के लिए खर्च कर दिए। इसके बाद वह बेफिक्र हो गए पर किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया , चारों दोस्त इज्जत नगर क्षेत्र से गिरफ्तार हो गए। जबकि एक युवक मौके पर था नहीं , जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस तलाश कर रही हैं।

 

पढ़े लिखे युवकों ने पैसे की दिक्कत के चलते घटना को दिया अंजाम 
इस केस में पकडे गए चार लड़कों में से तीन का कहना है कि उनके सामने फैमली को लेकर दिक्कत थी , उन्होंने किसी से कर्ज लिया था , जिसे चुकाने में दिकक्त हो रही थी , इस वजह से मिलकर लूट की घटना को अंजाम दिया।

प्रेमनगर इंस्पेक्टर ने दी यह जानकारी 
प्रेमनगर इंस्पेक्टर राजेश कुमार ने बताया कि घटना  के एक आरोपी को छोड़कर सभी को गिरफ्तार कर लिया गया हैं।  अभियुक्तों के पास से लूटी गई रकम में से 34 हजार रूपए के साथ 2 मोटरसाइकिलों को भी बरामद किया गया। आरोपियों को माननीय कोर्ट के सामने पेश करने के बाद आगे की  कार्रवाई की जाएगी।

Related posts

भारत जोड़ो यात्रा: उत्तर प्रदेश कांग्रेस आज से शुरू करेगी राज्य स्तरीय यात्रा

newsvoxindia

अस्पताल संचालिका से भारतीय जनता मजदूर संघ के जिलाध्यक्ष को मिली धमकी, एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

newsvoxindia

सड़क की मांग को लेकर ग्रामीणों ने किया चुनाव का बहिष्कार 

newsvoxindia

Leave a Comment