News Vox India
नेशनलयूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहर

ऑल इंडिया जमात ने बसपा प्रत्याशियों को दिया अपना समर्थन 

बरेली। ऑल इंडिया मुस्लिम जमात के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुफ्ती मौलाना शहाबुद्दीन रज़वी बरेलवी ने अन्य उलेमाओं  के साथ प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि लोकसभा का चुनाव चल रहा है और हजारों की तादाद में मुसलमान उलमा से पूछ रहे हैं कि हम वोट किसको दे, इसलिए आज उलमा ने मीटिंग करके ये महत्वपूर्ण फैसला लिया कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष  अखिलेश यादव अपनी चुनावी सभाओं में मुसलमान शब्द इस्तेमाल करते हुए डर रहे हैं, स्टेज़ से दाड़ी-टोपी वाले मुसलमानो को धक्के देकर नीचे उतार जा रहा है, नोमाया मुस्लिम चेहरो को हाशिए पर कर दिया गया है ।
Advertisement
मौलाना ने यह भी कहा कि यूपी के 22 मुस्लिम बाहुल्य  लोकसभा सीटों पर मुसलमानो को टिकट न देकर गैर मुस्लिमो को टिकट दिया गया है ।  राज्य सभा व  विधान परिषद और संसद में मुसलमानो की नुमाइंदगी को एक साज़िश के तहत खत्म किया जा रहा है ।बरेली में हुई सपा की सभा में आज़म खां का फोटो तक नहीं लगाया गया ।उत्तर प्रदेश के अन्य जनपदों में कई सपा मुस्लिम विधायक और आज़म खां सालो से जेल में है, इन तमाम चीजों के जिम्मेदार अखिलेश यादव है । उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि  मुसलमानो के मुद्दों से अपने आप को अलग थलग कर रखा है।
मुस्लिम उलमा ने कहा कि अखिलेश यादव मुसलमानो की दाढ़ी और टोपी से नफ़रत करते हैं, उन्होंने मुसलमानो को अपना बंधवा मजदूर समझ रखा है, उनकी नज़र में मुसलमान दरी बिछाने और कुर्सी लगाने के अलावा कोई हैसियत नहीं रखता । वह हमेशा मुसलमानो को बीजेपी और आरएसएस का डर व खोफ दिखाते रहते है। ।मुसलमानो के अंदर सियासी सूझ बूझ न होने की वजह से अखिलेश यादव मुसलमानो का इस्तेमाल करते है ।वह एक तरह से मुसलमानो के वोटों की तिजारत कर रहे है, मगर अब इस चुनाव में मुसलमान उनकी तिजारत को बंद कर देगा, और अब दरी बिछाने और कुर्सी लगाने के बजाय सत्ता को छीनने  की कोशिश करेगा।
मुस्लिम उलमा ने फैसला किया है कि बरेली लोकसभा से  भाजपा और सपा प्रत्याशी के अलावा किसी नेशनल पार्टी से कोई मुसलमान उम्मीदवार नहीं है इसलिए मुसलमान सपा प्रत्याशी का बहिष्कार करते हुए नोटा का बटन दबायें, सपा प्रत्याशी प्रवीण सिंह ऐरन ने बरेली के मुस्लिम मुद्दो से अपने आप को दूर रखा, बिचपुरी के मुसलमानो पर बुल्डोजर चला वो कहीं नहीं दिखे, पुराने शहर में मोहर्रम के जुलूस को रोका गया वो कही दूर दूर तक नजर नहीं आये ।  इज्ज़तनगर रेलवे स्टेशन मजार न्नेह शाह को टोडने का नोटिस दिया गया मुसलमान बहुत बैचेन थे मगर वो कहीं नजर नहीं आये, इसलिए मुसलमान सपा प्रत्याशी का NOTA बटन दबाकर बहिष्कार करें।मुस्लिम उलमा ने आंवला से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी  आबिद अली और बदायूं से बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी  मुस्लिम खां को वोट देने की अपील की है। इन दोनों लोक सभा में कोई अन्य मुस्लिम प्रत्याशी नहीं है और ये दोनों मुस्लिम प्रत्याशी मजबूत और निडर और जुझारू है। और लोकसभा क्षेत्रों में मुसलमानो की तादाद भी बहुत है, इसलिए मुसलमान मुत्ताहिद होकर इन दोनों को जिताये  ताकि मुस्लिम क़यादत मजबूत हो और वो संसद में पहुंच कर मुसलमानो की नुमाइंदगी करे और मुसलमानो की आवाज बने।
बदायूं में सपा मुखिया अखिलेश यादव ने जिस तरह से मुसलमानो की क़यादत को खत्म किया है वो बच्चा-बच्चा जानता है, इसलिए अब उनसे मुसलमान सपा प्रत्याशी को वोट न देकर अपना हिसाब किताब बराबर कर लें।मीटिंग में भाग लेने वाले मुस्लिम उलमा मौलाना हाफिज नूर अहमद अजहरी, मुफ्ती मजहर इमाम कादरी, मौलाना मुजाहिद हुसैन, मौलाना अरबाज रज़ा, मौलाना अनिसुल रहमान, मौलाना अब्सार अहमद के साथ ही मुस्लिम जमात के भी पदाधिकारी मौजूद रहे।

Related posts

अवैध खनन माफियाओं की गुंडई , पुलिस से की सरेआम अभद्रता , पुकिस कर्मी को दी धमकी

newsvoxindia

रोटरी क्लब बरेली चैंबर ने दिशा कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का किया आयोजन 

newsvoxindia

फतेहगंज पश्चिमी हादसा : एम्बुलेंस में सवार लोग एम्स में भर्ती कराने गए थे महिला मरीज  को , लौटते समय बरेली में हुआ हादसा ,

newsvoxindia

Leave a Comment