News Vox India
नेशनलयूपी टॉप न्यूज़शहरस्पेशल स्टोरी

बरेली में दिखेगी उत्तराखंड की छटा , उत्तरायणी मेला 13 जनवरी से ,

कोरोना काल में उत्तरायणी मेले का दो वर्षो तक नहीं हो सका था आयोजन ,

Advertisement

 

बरेली :  बरेली वासी एक बार  फिर उत्तराखंड की छटा अपने शहर में देख सकेंगे।  इसके लिए उत्तरायणी जनकल्याण समिति ने अपनी तैयारियां की है।  इस संबंध में उत्तरायणी जनकल्याण समिति के सदस्यों ने एक प्रेसवार्ता का आयोजन किया जिसमें उत्तरायणी मेले के बारे में जानकारी दी गई।  पीसी में बताया कि कोरोना कल के चलते पिछले दो वर्षो से उत्तरायणी मेले का आयोजन नहीं हो सका था पर इस बार भव्य तरीके से मेले का आयोजन बरेली क्लब में 13 जनवरी से शुरू होकर 15 जनवरी तक होगा।  मेले में उत्तराखंड से आये से 150 से ज्यादा स्टॉल लगाए जाएंगे जहां लोगों को उत्तराखंड के उत्पाद देखने के साथ खरीदने का मौका मिलेगा।

 

मेले के लिए कलाकारों का आगमन 12 जनवरी की शाम से शुरू हो जाएगा। 13 जनवरी की सुबह 10 बजे रंग यात्रा  अपनी विभिन्न रंग रूपों में  अनेकता में एकता का सन्देश देते हुए अम्बेडकर पार्क से  कैंट विधायक संजीव अग्रवाल हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे।  मेले का उद्घाटन 13 जनवरी को 12 बजे महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी करेंगे।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार , मेयर उमेश गौतम के साथ शहर के कई गणमान्य एवं प्रशासनिक अधिकारियों के आने की संभावना है।

 

महामंत्री दिनेश चन्द्र पन्त बताया कि मेले की  लगभग सारी तैयारियां पूरी हो चुकी है, जिसको जो भी कार्य दिया गया है सभी जनों ने अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है विगत एक महीने से स्टालों का काम देख रहे के०पी०एस० बिष्ट और कोषाध्यक्ष देवेन्द्र मनराल ने सभी स्टालों को बुक कर लिया है। स्मारिका सम्पादक डॉ० नवीन उप्रेती एवं स्मारिका प्रभारी प्रकाश पाठक एवं कमलेश बिष्ट ने भी अपने कार्य में रात दिन एक करके स्मारिका को समय पर देने की कोशिश कर रहे हैं। उत्तरायणी जनकल्याण समिति अब ब्लड डोनेशन प्रतिभा सम्मान समारोह, गरीब एवं बेसहारा बुजुर्गों, मरीजों एवं दुर्घटनाग्रस्त परिवारों को आर्थिक मदद समय-समय पर करती रहती है।

साँस्कृतिक प्रभारी पूरन सिंह दानू ने बताया कि मेलों का मुख्य आकर्षण पर्वतीय लोकगीत, सांस्कृतिक कला, लोक साहित्य आदि पर कार्यक्रम प्रस्तुत किये जायेंगे। इस बार एकल गायक कलाकारों में सुर कोकिला डॉ० लता तिवारी, बसन्ती बिष्ट, मेघनाथ चन्द्रा, जितेन्द्र तुमक्याल, प्रहलाद मेहरा, दीवान कनवाल, जगदीश काण्डपाल, राकेश कनवाल, कैलाश कुमार आदि सुरमयी शाम को मदहोश करेंगे।

 

अध्यक्ष प्रमोद सिंह बिष्ट व महामंत्री दिनेश चन्द्र पन्त ने विशेष सहयोग के लिये कोषाध्यक्ष देवेन्द्र मनराल, पी०सी० पाठक, देवेन्द्र जोशी, भवानी दत्त जोशी, डॉ० मनोज काण्डपाल, मनोज पाण्डेय, सरंक्षक डी०डी० बेलवाल के०पी०एस० बिष्ट, रमेश शर्मा, भुवन चन्द्र पाण्डेय, तारा जोशी, आशीष जोशी, डॉ नवीन उप्रेती, प्रकाश पाठक, आनन्द सिंह भण्डारी, एन०डी० पाण्डे, पूरन दानू, जगदीश आर्या, चन्द्र प्रकाश जोशी, दिनेश पाण्डे, योगेन्द्र जोशी, मुकुल त्रिपाठी, कॅप्टन ललित मोहन जोशी, के०सी० सती, रामेश्वर पाण्डेय, गौरव पाण्डेय, मोहन जोशी, अम्बा दत्त मठपाल, विपिन वर्मा, मोहन पाठक, उमेश तिवारी, पी०एस० जौना के०सी०/ सती, कमलेश विष्ट, कमला पाण्डेय, सी०बी० तिवारी, रामू चन्द, पदम रावत, पूरन मेहरा, दिनेश थाना दीपक जोशी, जे०सी० बेलवाल, धर्मानन्द जोशी, गौरव मिश्रा, दामोदर लोहनी, हितेन्द्र चौहान, जेसी० काला, शंकर सिंह बोहरा, विष्णु खत्री, पी०एस० दताल, जे०सी० बेलवाल, के०एस० रावत, सुमन देव कुकरतो आदि का सहयोग रहा। उत्तरायणी मेले को अब तक सफल एवं प्रचार-प्रसार के लिये विशेष रूप से समस्त प्रतिष्ठित समाचार पत्रों, इलैक्ट्रॉनिक मीडिया का आभार प्रकट करते हैं। पुलिस प्रशासन की ओर से भी हमें सदैव की तरह पूरा सहयोग मिलता है, जिस कारण यह मेला सुचारु रूप से शान्तिपूर्वक चलता आ रहा है।

 

Related posts

कांग्रेसियों ने बच्चों के बीच मनाया राहुल गांधी का जन्मदिन , दी अपनी शुभकामनाएं

newsvoxindia

नाबालिग से छेड़छाड़ करने वाले दो युवकों पर पास्को एक्ट के तहत मुकदमा

newsvoxindia

अजब गजब मामला : भाजपा – सपा प्रत्याशियों की हार जीत को लेकर दो अधिवक्ताओं में दो-दो लाख रुपए की लगी शर्त , 

newsvoxindia

Leave a Comment