News Vox India
धर्म

4 नवम्बर 2021 को है दीपावली का पर्व, जानते है दीपावली के पांच दिवसीय महापर्व की तिथियां और पूजन का सर्वश्रेष्ठ समय

Lakshmi

ज्योतिषाचार्य -पंडित ललित तिवारी

【ज्योतिषाचार्य आचार्य ललित तिवारी】============================✍????दीपावली का पर्व हिंदू धर्म के महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है, दीपावली के दिन मां लक्ष्मी जी और विघ्नहर्ता भगवान गणेश जी का पूजन होता है, इसके साथ ही इस दिन लोग अपने इष्ट देवों का भी पूजन करते हैं ज्योतिषाचार्य ललित तिवारी जी ने बताया कि दीपावली का त्योहार कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है, दीपावली  का त्योहार पांच दिनों तक मनाने का शास्त्र सम्मत मत है इसकी शुरूआत धनतेरस के दिन से हो जाती है इसके बाद नरक चौदस, अन्नकूट और भैय्या दूज का पर्व मनाया जाता है आइए जानते हैं इस वर्ष दीपावली के पांच दिन के त्योहार की तिथियां और पूजन के बारे में…………*धनतेरस:-*  दीपावली के महापर्व की शुरूआत कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि के दिन से हो जाती है, इस दिन धनतेरस का पर्व मनाया जाता है, धनतेरस पर धन के देवता कुबेर, यम और औषधि के देव धनवंतरी के पूजन का विधान है आचार्य ललित तिवारी जी ने बताया कि इस वर्ष धनतेरस का पर्व 02 नवंबर, दिन मंगलवार को मनाया जाएगा !!*नरक चौदस:-* ज्योतिषाचार्य ललित तिवारी जी ने बताया कि नरक चौदस को छोटी दीपावली के नाम से भी जाना जाता है, इस दिन भगवान श्री कृष्ण ने नरकासुर नामक राक्षस का वध किया था, उसी के नाम से इस दिन को नरक चौदस कहा जाता है, इस वर्ष नरक चौदस का त्योहार 03 नवंबर, दिन बुधवार को मनाया जाएगा !!*दीपावली:-* ज्योतिषाचार्य ललित तिवारी जी ने बताया कि दीपावली के पांच दिन के महोत्सव का सबसे महत्वपूर्ण पर्व कार्तिक मास की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है, दीपावली पर गणेश जी- माँ लक्ष्मी जी के पूजन का विधान है, इसके साथ ही इस दिन भगवान श्री राम के लंका विजय के बाद अयोध्या वापस लौटने के त्योहार के रूप में भी मनाया जाता है, इस वर्ष दीपावली का त्योहार 04 नवंबर, दिन गुरूवार को मनाया जाएगा !!दीपावली पर्व में पूजन का सर्वश्रेष्ठ समय शाम 6 बजकर 20 मिनिट से 9 बजकर 10 मिनिट तक !!सिंह लग्न में पूजन का समय रात्रि 10 बजकर 33 मिनिट से रात्रि 1 बजकर 30 मिनिट तक !!*गोवर्धन पूजा या अन्नकूट:-* दीपावली के अगले दिन प्रतिपदा पर गोवर्धन पूजा या अन्नकूट का त्योहार मनाने का विधान है ये पर्व भगवान कृष्ण के द्वारा गोवर्धन पर्वत उठा कर मथुरावसियों की रक्षा करने के उपलक्ष्य में मनाया जाता है, इस वर्ष गोवर्धन या अन्नकूट पूजा 05 नवंबर, दिन शुक्रवार की जाएगी ।*भैय्या दूज:-* भैय्या दूज या यम द्वितिया का पर्व कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है, ये त्योहार भी राखी की तरह भाई-बहन को समर्पित होता है, इस दिन यमुना स्नान का विशेष महत्व होता है, इस वर्ष भैय्या दूज का पर्व 06 नवंबर, दिन शनिवार को मनाया जाएगा ।

Advertisement

*”ज्योतिष शास्त्र, वास्तुशास्त्र, वैदिक अनुष्ठान व समस्त धार्मिक कार्यो के लिए संपर्क करें:-**आचार्य पण्डित ललित तिवारी नाथ नगरी बरेली धाम उत्तर प्रदेश भारत**जय जय श्री सीताराम बाबा फक्का जी का मन्दिर प्राचीन ठाकुर द्वारा गंगापुर चौक श्यामगंज नाथ नगरी बरेली धाम उत्तर प्रदेश भारत संपर्क सूत्र 9808846090 ,, 7017880205,

Share this story

Related posts

आज मंगलवार में मिथुन राशि के चंद्रमा से बन रहे धन वर्षा के योग ,जानिए क्या कहते हैं सितारे,

newsvoxindia

शशि सोशल वेलफेयर सोसाइटी ने डांडिया महोत्सव का किया आयोजन , देखिये यह वीडियो

newsvoxindia

आज उच्चतम फलदायक रहेगा चंद्रमा -करें भोलेनाथ की पूजा ,जानिए क्या कहते हैं सितारे

newsvoxindia

Leave a Comment