News Vox India
धर्म

कई मंगलकारी संयोगो में मनेगी हरतालिका तीज

ज्योतिषाचार्य पंडित मुकेश मिश्रा 

बरेली। हरतालिका तीज हर साल भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। इस साल यह 9 सितंबर को मनाई जाएगी।  हरतालिका तीज पर कई वर्षों के बाद  रवियोग बन रहा है। मान्यता है कि इस शुभ संयोग में व्रत और पूजन करने से सुहागिनों की मनोकामनाएं पूरी होती हैं। हरतालिका तीज पर भगवान शिव और माता पार्वती की विधि-विधान से पूजा की जाती है।

Advertisement

-करवा चौथ की तरह कठिन है हरतालिका तीज व्रत

इस दिन सुहागिनें पति की लंबी आयु और सुख-समृद्धि की कामना के लिए निराहार और निर्जला व्रत रखती हैं। हरतालिका तीज को हिंदू धर्म में सबसे कठिन व्रतों में से एक माना जाता है। मान्यता है कि यह व्रत अत्यंत शुभ फलदायी होता है। हरतालिका तीज को हरियाली और कजरी तीज के बाद मनाते हैं।

-हरतालिका तीज पर मंगलकारी संयोग

हरतालिका तीज पर  रवियोग चित्रा नक्षत्र के कारण बन रहा है। यह शुभ योग 9 सितंबर को दोपहर 2 बजकर 30 मिनट से अगले दिन 10 सितंबर को 12 बजकर 57 मिनट तक रहेगा। हरतालिका तीज व्रत का पूजा का अति शुभ समय शाम 05 बजकर 16 मिनट से शाम को 06 बजकर 45 मिनट तक रहेगा। शुभ समय 06 बजकर 45 मिनट से 08 बजकर 12 मिनट तक रहेगा। 

हरतालिका तीज महत्व

हरतालिका तीज व्रत करने से पति को लंबी आयु प्राप्त होती है। मान्यता है कि इस व्रत को करने से सुयोग्य वर की भी प्राप्ति होती है। संतान सुख भी इस व्रत के प्रभाव से मिलता है।

Share this story

Related posts

गंगोत्री से जल कलश बरेली पहुंचा,

newsvoxindia

आज सिद्धि योग में सूर्य भगवान की पूजा आराधना से बढ़ेगा सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह ,जानिए क्या कहते हैं सितारे.

newsvoxindia

भमोरा का वनखंडी नाथ मंदिर जिसकी पांडवों ने की थी स्थापना , जाने और ज्यादा ,

newsvoxindia

Leave a Comment