News Vox India
यूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहर

स्वार विधानसभा उपचुनाव में आजम का दिखा नया रूप, बातों बातों में कांग्रेस के साथ भाजपा को लिया निशाने पर ,

रामपुर । समाजवादी पार्टी नेता मोहम्मद आजम खान के बेटे अब्दुल्लाह आजम को अदालत से सजा सुनाए जाने के बाद विधानसभा सदस्यता रद्द हुई और स्वार विधानसभा रिक्त घोषित हो गई जिस पर उपचुनाव हो रहा है और मुस्लिम बाहुल्य इस सीट पर समाजवादी पार्टी का मुस्लिम चेहरा कहलाए जाने वाले आजम खान ने सपा से अनुराधा चौहान को प्रत्याशी बनाकर सबको चौंका दिया है ।

Advertisement

 

स्वार विधानसभा क्षेत्र से पहली बार समाजवादी पार्टी ने हिंदू प्रत्याशी उतारा है जिसको लेकर मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में खासकर समाजवादी पार्टी के मुस्लिम वोट बैंक में विरोध के स्वर नजर आ रहे हैं।सेकुलर अंदाज में चुनाव प्रचार करने पहुंचे आजम खान ने जनता को हिंदू मुस्लिम एकता का पाठ पढ़ाया, आजम खान ने जहां महात्मा गांधी के हत्या के समय निकले बोल, हे राम का जिक्र किया तो वही टीपू सुल्तान की हत्या के बाद अंग्रेजों द्वारा उतार कर ले जाई गई अंगूठी पर राम लिखा होना बताया।

 

 

आजम खान ने अपनी स्पीच के दौरान कहा हमारे ही वतन हिंदुस्तान में इमरजेंसी के नाम पर एक ऐसा दौर भी आया जब पूरे मुल्कों को कहा गया कि कैद खाना बन गया मैं बहुत छोटा था उस वक्त अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पढ़ता था वकालत एक सबसे बड़ी डिग्री का नाम है यूनियन के लोग पकड़े गए मैं भी पकड़ा गया क्योंकि उस वक्त यूनियन का सेक्रेटरी था और वही सबसे बड़ा ओहदेदार होता था मुझे अलीगढ़ की एक ऐसी कोठरी में रखा जहां कभी एक बहुत नामवर डाकू हुआ करता था उसका नाम था सुंदर डाकू, हमारे साथ आज जो कुछ हुआ है यह कोई अजूबा नहीं है यह कुछ ऐसा नहीं है जिसके लिए हम तैयार नहीं थे यह हमारा हड्डी गोश्त हथकड़ियों के लिए आमादा नहीं है यहां की कोठरी और वहां की कोठरी में बस इतना फर्क था कि यह जमीन के अंदर थी और वह जमीन के ऊपर थी और जब सूरज अपने उरूज पर होता था तब यह मालूम होता था कि अब दुनिया में दिन निकला है इससे भी छोटी कोठरी थी जिसका जिक्र किया अब्दुल्लाह ने, कोठरी में पेशाब पखाने के लिए कुंडेली थी जिसके अंदर राख थी उसी में पेशाब कीजिए उसी में ही पखाना कीजिए और वही खाइए और सो जाइए, जब जालिम जुल्म करता है तो उसकी कोई हद नहीं होती और जब कोई खाई देता है तो उसे इस बात का अंदाजा नहीं होता कि खाई कितनी गहरी है लेकिन देखना यह है कि कुंवाते बर्दाश्त करने की ताकत कितनी हैं और अगर वह बर्दाश्त की कसौटी में पहली बार उतर गए तो फिर जिंदगी की आखरी सांस तक कोई अजियत ऐसी नही बनेगी जिस पर उनके सर को झुकाया जा सके और आज हम उसी दबे हुए सर के साथ आपके सामने खड़े हुए हैं।

 

 

आजम खान ने अपनी स्पीच के दौरान कहा मिस इंदिरा गांधी का जमाना, हवाये रुक जाए, जिसने एक मुल्क के दो टुकड़े करा दिए जिन्हें दुर्गा मां का खिताब मिला इमरजेंसी की गलती ने उनके नाम को मिटा कर रख दिया ऐसी आंधी चली कि कांग्रेस का नामोनिशान मिट गया हम जैसे लोग एकतेदार में आए एक और हादसा हुआ इस मुल्क में दर्दनाक उसमे इंदिरा गांधी की हत्या हुई बहुत बुरा हुआ इंतेहा ही बुरा हुआ किसी कानून के मुल्क में किसी की जान कानून के फैसले के बगैर जाना चाहे वह इंदिरा गांधी हो या कोई अदला सा इंसान हो वह कल भी गलत था और आज भी गलत है लेकिन नतीजा क्या हुआ इंदिरा गांधी की हत्या एक औरत, एक वजीरे आजम, एक मां, एक बेटी की हत्या नहीं थी एक बीवी की हत्या नहीं थी बल्कि हिंदुस्तान की निजाम ए जम्हूरियत का कतल था और फिर एक ऐसा इंसानी सैलाब आया कि आज तक हिंदुस्तान की पार्लियामेंट में किसी के भी इतने एमपी नहीं जीत कर आए जितने एमपी कांग्रेस के आए और राजीव गांधी हिंदुस्तान के वजीरे आजम बने कोई सोच सकता था कि मिसेज इंदिरा गांधी जिन्होंने इमरजेंसी लगाई थी उनका बेटा कभी इस मुल्क का प्रधानमंत्री बनेगा लेकिन यह हुआ, गलती करने वाले यह भूल जाते हैं कि इस के नतीजे क्या होंगे जब नया नया टेलीविजन चला था मिस इंदिरा गांधी सफेद साड़ी पहनकर बरामदे में बेंच पर जा कर बैठ जाया करती थी और पूरे हिंदुस्तान की आंखों में आंसू होते थे वही इदिरा गांधी जिन्होंने इमरजेंसी लगाई थी उनको एक नई जिंदगी दे दी थी।

 

 

आजम खान ने अपनी स्पीच के दौरान कहा पूरी दुनिया में सिर्फ दो बैंक अकाउंट है एक पार्लियामेंट की तनख़ा का जहां की मेंबरशिप खत्म हो गई और दूसरा उत्तर प्रदेश की विधानसभा का लखनऊ का बैंक अकाउंट उसके अलावा पूरी दुनिया में हमारा कुछ है तो जाओ भाजपा वालों तुम्हारे नाम कर दिया।आजम खान ने अपनी स्पीच के दौरान कहा हिंदुस्तान के हर मजलूम के लिए यह उसूल वाजिब है और इसी उसूल से हिंदुस्तान के लोगों ने सात समंदर पार के फिरंगी ओं को भगाया भी है कभी नहीं जाता अंग्रेज, अंग्रेज ने हिंदुस्तान से जाने के लिए कोलकाता नहीं बनाया था देखो कभी जाकर अंग्रेज ने कैसा शहर बसाया है उसने गोवा हिंदुस्तान से जाने के लिए नहीं सजाया था उसने दिल्ली का कनॉट प्लेस जाने के लिए नहीं बनाया था उसने लखनऊ का हजरतगंज हिंदुस्तान से जाने के लिए नहीं बनाया था राष्ट्रपति भवन हिंदुस्तान से जाने के लिए नहीं बनाया था किसने भगाया उन्हें एक लाठी वाले ने एक उसने जिसके जिस्म पर सिर्फ उतनी ही कपड़े की धज्जी थी जिससे उसके जिस्म का जरूरी हिस्सा ढका जा सकता हो, जाड़ा हो, गर्मी हो, या बरसात हो उसे पूरे हिंदुस्तान में बाबा ए कॉम कहा, राष्ट्रपिता कहां वह किसी मां के शौहर नहीं थे लेकिन हिंदुस्तान के हर बच्चे के बाप थे इसलिए क्योंकि उन्होंने गुलामी से आजादी दिलाई थी, दे दी हमें आजादी बिना किसी चीज के, कोई जंग नहीं हुई एक चौकी जला दी गई तो बापू ने डांडी मार्च खारिज कर दिया उन्होंने कहा कि एक ऐसा हिंदुस्तान जो किसी के खून के धब्बों पर आजाद हो मुझे ऐसा आजाद हिंदुस्तान नहीं चाहिए।

 

 

आज क्या हो रहा है आजाद किए हुए हिंदुस्तान पर बापू के खून की छींटे हैं बापू की हत्या और मरते वक्त कौन सा शब्द निकला था बापू के नाम से हे राम और आज राम के नाम पर एक बापू की हत्या।

आजम खान ने अपनी स्पीच के दौरान कहा और दूसरा अंग्रेजों के हाथों से सुल्तान टीपू का कत्ल हुआ मालूम है नौजवानों सुल्तान टीपू के हाथ से तो अंगूठी उतारी गई जो आज भी बलदानिया के म्यूजियम में है और यह बताओ उन लोगों को जो नफरत का संदेश देते हैं नफरत का पैगाम देते हैं और फिर इंसान को इंसान से लड़ आते हैं और धर्म को धर्म से और जात को जाति से लड़ आते हैं यह बलदानिया के म्यूजियम में सुल्तान टीपू की जो अंगूठी कत्ल करके उतारी गई थी उसे रंग अंगूठी पर राम लिखा हुआ है यह अंगूठी टीपू सुल्तान के हाथ से उतरी हुई थी यह था हिंदुस्तान एक अंग्रेज के हाथों मारे हुए और एक अपनों के हाथों से कत्ल किए हुए बापू बापू के राम।

 

 

Related posts

इज्जतनगर कार्यालय पर मनाया गया डॉ भीमराव अंबेडकर जन्मोत्सव ,

newsvoxindia

200 गज जमीन के विवाद में फतेहगंज पूर्वी में पथराव के साथ फायरिंग , 3 घायल

newsvoxindia

 जौहर यूनिवर्सिटी से बेशकीमती अलमारियों बरामद, बढ़ेंगी आजम की मुसीबतें

newsvoxindia

Leave a Comment