News Vox India
राजनीति

यूपी सरकार ने बरेली में खोले विकास के रास्ते , देते है यह आंकड़े गबाही

प्रेस वार्ता को सम्बोधित करते हुए माननीय सांसद श्री संतोष कुमार गंगवार एवं माननीय सांसद आंवला श्री धर्मेंद्र कश्यप।

बरेली | यूपी सरकार के  साढ़े चार वर्ष पूरे होने के मौके पर  विकास भवन में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया | इस मौके पर पूर्व केंद्रीय एंव भाजपा के वरिष्ठ नेता मंत्री संतोष गंगवार ने योगी सरकार द्वारा कराये गए कार्यों पर विकास डाला | संतोष गंगवार ने कहा कि आज योगी सरकार  के साढ़े चार वर्ष की उपलब्धि बताने के लिए आप सबको बुलाया था | उन्होंने कहा की ऐसा कोई क्षेत्र नहीं है जहां प्रदेश सरकार ने काम नहीं किया हो | आज देश में लोग चर्चा करते है कि यूपी बहुत पीछे है पर ऐसा नहीं है | यूपी अग्रणी रहकर बहुत अच्छा काम कर रहा है | इसके परिणाम समझ आ रहे है | यह माननीय योगी जी अगुवाई  में संभव हो रहा है | हम विश्वास के साथ कह सकते है कि आने वाले चुनाव में जनता भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में अपना मतदान करेगी और हमारी सरकार बनाने  का काम करेगी | बैठक में डीएम बरेली नितीश कुमार ने जिले में हुए विकास कार्यो पर प्रकाश डाला | बैठक  में केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार के साथ आंवला सांसद धर्मेंद्र कश्यप , बिथरी विधायक पप्पू भरतौल , भोजीपुरा विधायक बहोरन लाल , शहर विधायक अरुण कुमार के साथ तमाम भाजपा के कई नेता मौजूद रहे | 

Advertisement

 देखिये बरेली  जिले में पिछले साढ़े चार वर्ष में किस विभाग की क्या रही प्रगति ◆ रू0 733.56 करोड़ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनान्तर्गत 497276 कृषकों को लाभ प्रदान किया गया।◆ रू0 16.21 करोड़ का अनुदान 77629 कृषकों को बीज खरीद हेतु दिया गया।◆ न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान खरीद वर्ष 2020-21 में कुल 237539.19 मी0 टन धान 44882 कृषकों से क्रय किया गया है। गतवर्ष के सापेक्ष 22302 कृषक अधिक लाभान्वित हुये हैं।◆ न्यूनतम समर्थन मूल्य पर गेंहू खरीद वर्ष 2021-22 में कुल 169477.57 मी0 टन गेंहू 35053 कृषकों से क्रय किया गया है। गतवर्ष के सापेक्ष 18150 कृषक अधिक लाभान्वित हुये है।◆ रू0 4811.62 करोड़ का गन्ना मूल्य भुगतान 666919 कृषकों को किया गया।◆ गोवंश आश्रय स्थलों में कुल 2884 गोवंशों को संरक्षित कर रू0 7.75 करोड़़ भरण पोषण पर व्यय किया गया।◆ सहभागिता योजनान्तर्गत 650 कृषकों/इच्छुक पशुपालकों को 838 गोवंश की सुपुर्दगी कर भरण पोषण में रू0 1.10 करोड़ व्यय किया गया।◆ 7446804 पशुओं का टीकाकरण किया गया तथा 17875.355 लाख ली0 दुग्ध उत्पादन किया गया।◆ आगामी कोविड-19 की सम्भावित 3rd वेव हेतु 20 अस्पतालों का चिन्हिकरण किया गया है जिनमें 1185 ऑक्सीजन बेड, 465 बेड आईसीयू तथा 111 वैंटीलेटर सहित 1732 बेड की व्यवस्था हो चुकी है।◆ ऑक्सीजन की व्यवस्था हेतु जनपद में 300 बेडेड अस्पताल, जिला महिला चिकित्सालय एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, बहेड़ी, मीरगंज एवं आंवला में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित कराये गये हैं।◆ जनपद बरेली में बच्चों के लिए वर्तमान में पीकू (पीडियाट्रिक इन्सेन्टिव केयर यूनिट) हेतु डेडीकेटेड पीडियाट्रिक बैड 140, पी.आई.सी.यू./एच.डी.यू. बैड 7, एल.पी.एम. 136 राजकीय/निजी चिकित्सालयों में उपलब्ध है।◆ जनपद बरेली में 300 बेडेड हॉस्पिटल में 80, शीशगढ़ में 30, ऑवला में 30, मीरगंज में 30 एवं बहेड़ी में 50 तथा राजश्री, एस.आर.एम.एस., रूहेलखण्ड मेडिकल कालेज में 50-50 पीकू एवं आईसोलेशन बैडों की स्थापना की जा रही है।

◆ आयुष्मान भारत योजना के तहत 162684 रोगियों को चिकित्सकीय सहायता प्रदान की गयी।◆ मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत 2100 व्यक्तियों को लाभान्वित कराया गया।◆ राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन कार्यक्रम अन्तर्गत रू0 122.35 करोड़ व्यय कर 24445 व्यक्तियों को लाभान्वित कराया गया।◆ जननी सुरक्षा योजना के तहत 1.47 लाख महिलाओं को लाभान्वित कराया गया।◆ उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत लगभग 3.50 लाख परिवारों को लाभान्वित किया गया।◆ मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजनान्तर्गत रू0 1035.45 लाख की धनराशि का व्यय कर 2116 जोड़ों का विवाह सम्पन्न कराया गया।◆ रू0 71.11 करोड़ की धनराशि से अनुसूचित जाति के 53699, रू0 45.76 करोड़ की धनराशि से सामान्य जाति के 34728 तथा रू0 38.11 करोड़ की धनराशि 48795 अल्पसंख्यक, कुल रू0 154.98 करोड़ की धनराशि से 137222 छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति वितरित कराई गयी।◆ 81069 लाभार्थियों को वृद्धावस्था पेंशन, 79084 महिलाओं को निराश्रित महिला पेंशन तथा 27440 लाभार्थियों को दिव्यांग पेंशन प्रदान कर लाभान्वित किया गया। साथ ही 3552 दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग/सहायक उपकरण वितरित किये गये।◆ मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत 19662 पात्र लाभार्थियों को लाभान्वित किया गया।◆ राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजनान्तर्गत ई-पॉस मशीन द्वारा खाद्यान्न वितरण से लगभग 32.78 लाख व्यक्तियों को लाभान्वित कराया गया।◆ ऑपरेशन कायाकल्प के अन्तर्गत 721 पंचायत भवन, 512 आंगनबाड़ी भवन एवं 2482 विद्यालयों का नवीनीकरण/जीर्णोद्धार कर टाईलिंग, शौचालय, स्वच्छ पेयजल आदि का कार्य कराया गया।◆ स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण अन्तर्गत रू0 371.96 करोड़ की लागत से 303363 स्वच्छ शौचालयों का निर्माण।◆ रू0 7.69 करोड़ की लागत से 33 ग्राम पंचायतों में अन्त्येष्टि स्थलों का निर्माण कराया गया।◆ राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनान्तर्गत कुल 4642 महिला स्वयं सहायता समूहों का गठन कर, 880 समूहों को सी.सी.एल., 1486 समूहों को सी.आई.एफ. एवं 2792 समूहों को रिवाल्विंग फण्ड के रूप में रू0 29.33 करोड़ रूपये वितरित किये गये।◆ प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण अन्तर्गत 12102 आवासों का निर्माण कराया गया।◆ मुख्यमंत्री आवास योजना ग्रामीण अन्तर्गत 133 आवासों का निर्माण कराया गया।◆ रू0 19848.00 लाख की लागत से 3280 ग्रामों तथा मजरों को विद्युतीकृत किया गया।◆ 20334 युवाओं को व्यवसायिक प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

● निर्माण कार्य :-

◆ बरेली स्मार्ट सिटी योजनान्तर्गत 1043.81 करोड़ के 63 परियोजना स्वीकृत की गयी, जिसमें से 14 परियोजना पूर्ण कर 23.09 करोड़ लागत की धनराशि व्यय की गयी है, जिनमें मुख्यतः स्मार्ट क्लासेज, ओपन जिम, म्यूजिकल फाउन्टेन एवं म्यूजिक सिस्टम (गॉधी उद्यान), सोलर ट्री, हाईमास्ट आदि का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। रू0 603.46 करोड़ की 29 परियोजनाओं का कार्य प्रगति में है। शेष परियोजनाओं पर टेण्डर एवं डी.पी.आर. की प्रक्रिया की जा रही है।◆ जल जीवन मिशन योजना के अन्तर्गत 20.64 करोड़ की लागत से 22146 घरों को स्वच्छ पेयजल के कनेक्शन दिये जाने हैं। जिसमें अब तक रू0 2.98 करोड़ व्यय कर 14536 घरों को स्वच्छ पेयजल के कनेक्शन दिये जा चुके हैं।◆ ग्रामीण पेयजल योजना के अन्तर्गत 855 ग्राम पंचायतों के 1405 ग्रामों को स्वच्छ पेयजल से संतृप्त किये जाने हेतु परियोजनाएं तैयार की जा रही है, जिसके अन्तर्गत 184 परियोजनाओं का डी.पी.आर. जिला पेयजल एवं स्वच्छता मिशन समिति के द्वारा राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन को स्वीकृति हेतु प्रेषित की जा चुकी है।◆ रू0 3402.622 करोड़ की लागत से कुल 568 परियोजनाओं/सड़कों का निर्माण कार्य किया गया है। जिनमें से कुछ प्रमुख परियोजनायें निम्नांकित हैं :-◆ रू0 474.54 करोड़ की लागत से 31 सेतुओं का निर्माण कार्य किया गया। जिसमें लाल फाटक, चौपला चौराहा, आई.वी.आर.आई., श्यामगंज, सेटेलाईट आदि प्रमुख है।◆ रू0 212.20 करोड़ की लागत से बरेली की सीवरेज योजना सेन्ट्रल जोन फेज-3 ब्रान्च सीवर लाईन का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 129.51 करोड़ की लागत से यूनानी मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य प्रस्तावित है।◆ रू0 88.09 करोड़ की लागत से बरेली की सीवरेज योजना सेन्ट्रल जोन फेज-2 सीवेज ट्रीटमेन्ट प्लान्ट का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 72.51 करोड़ की लागत से 300 शैय्या युक्त मण्डलीय चिकित्सालय का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 71.22 करोड़ की लागत से नवाबगंज में उ0प्र0 भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के बालक/बालिकाओं के लिये अटल आवासीय विद्यालायों का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 54.85 करोड़ की लागत से बरेली की सीवरेज योजना सेन्ट्रल जोन फेज-1 ट्रंक सीवर लाईन का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 42.60 करोड़ की लागत से 17 कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में एकेडमिक ब्लॉक एवं हॉस्टल का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 23.11 करोड़ की लागत से क्षेत्रीय विधि विज्ञान प्रयोगशाला का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 16.72 करोड़ की लागत से बस स्टेशन मिनी बाईपास बरेली का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 17.98 करोड़ की लागत से राजकीय पॉलीटेक्निक ग्राम उमेदपुर भुता फरीदपुर का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 16.94 करोड़ की लागत से नगर में पाईप लाईन विस्तार एवं गृह संयोजन कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 11.66 करोड़ की लागत से 200 व्यक्तियों हेतु 8वीं वाहिनी पी.ए.सी. बरेली में बैरक का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 10.58 करोड़ की लागत से तहसील नवाबगंज में राजकीय महाविद्यालय का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 10.55 करोड़ की लागत से तहसील बहेड़ी में रिछा रोड पर राजकीय महाविद्यालय का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ रू0 9.71 करोड़ की लागत से ग्राम सुन्दरासी एवं मैहलउ के मध्य देवरनियां नदी पर मुख्य सेतु, पहुँच मार्ग एवं अतिरिक्त पहुँच मार्ग का निर्माण कार्य पूर्ण कराया गया।◆ रू0 9.57 करोड़ की लागत से बरेली स्मार्ट सिटी मिशन के अन्तर्गत वातानुकूलित मिडी इलेक्ट्रिक बसों के संचालन हेतु चार्जिंग स्टेशन व शेड का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 7.41 करोड़ की लागत से 200 व्यक्तियों की क्षमता वाली बहुमंजिला बैरक का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 7.35 करोड़ की लागत से आंवला में तथा रू0 6.84 करोड़ की लागत से नवाबगंज में 50-50 शैय्यायुक्त एकीकृत चिकित्सालयों का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 6.49 करोड़ की लागत से पशु चिकित्सालय पॉलीक्लीनिक, क्यारा का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 5.18 करोड़ की लागत से रूपपुर जोगीठेर माधोपुर के मध्य शंखा नदी पर मुख्य सेतु एवं पहुँच मार्ग का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 4.73 करोड़ की लागत से केन्द्रीय कारागार में केम्पस बाउण्ड्रीवाल का निर्माण कार्य कराया गया।◆ रू0 1.83 करोड़ की लागत से बस स्टेशन फरीदपुर का निर्माण कार्य कराया जा रहा है।◆ 245.845 कि0मी0 नई सड़कों का निर्माण/चौड़ीकरण कराया गया।◆1541.91 कि0मी0 राज्य मार्गों का अनुरक्षण किया गया।◆ 2696.65 कि0मी0 सड़कों को गड्डा मुक्त किया गया।◆ पेयजल और स्वच्छता विभाग द्वारा सामुदायिक शौचालयों से अधिकतम गांवों को संतृप्त करने के लिए सम्पूर्ण भारत में प्रथम पुरस्कार (स्वच्छ भारत पुरस्कार) से जनपद बरेली को सम्मानित किया गया।◆ जनपद बरेली में धान खरीद लक्ष्य का 135.73 प्रतिशत किया गया। इसके अन्तर्गत 22806 किसानों के सापेक्ष 44882 किसानों से खरीद की गयी, जिसमें दोगुनी वृद्धि परिलक्षित हुयी। इस अनुकरणीय कार्य के लिए प्रमुख सचिव, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति (यूपी) द्वारा जिलाधिकारी, बरेली को प्रशंसा पत्र दिया गया।◆ जनपद बरेली को मा0 मुख्यमंत्री विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों के अन्तर्गत 48 इंडिकेटर्स में माह जुलाई, 2021 में प्रदेश में द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ है। 

Related posts

वाल्मीकि जयंती पर विशेष : भगवान वाल्मिकी प्रकटोत्सव पर सत्संग एवम विशाल भंडारे के साथ शोभा यात्रा का आयोजन,

newsvoxindia

आईएमसी ने जिला अध्यक्षों की लिस्ट की जारी,

newsvoxindia

स्मार्ट महिला कार्यक्रम में कांता कर्दम बोली ,हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों की भागेदार 

newsvoxindia

Leave a Comment