News Vox India
नेशनलयूपी टॉप न्यूज़शहर

हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़ा आतंकी मुरादाबाद से गिरफ्तार, आतंकी अफगानिस्तान में जाकर कमांडो की लेना  चाहता था ट्रेंनिग,

 

सहारनपुर । यूपी एटीएस की सहारनपुर बिंग ने हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकी को मुरादाबाद से गिरफ्तार किया है। एटीएस सहारनपुर को सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति अहमद रजा उर्फ़ शाहरुख उर्फ़ मोहीउद्दीन निवासी ग्राम – मिलक गुलड़िया, पोस्ट-कांकर खेड़ा, थाना-मूढ़ा पांडे, जनपद-मुरादाबाद, सोशल मीडिया के माध्यम से आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन व पाकिस्तान के आतंकी हैंडलर्स के लगातार सम्पर्क में है । वह पाकिस्तान के रास्ते अफगानिस्तान जाकर आतंकी कमाण्डो ट्रेनिंग लेकर भारत में आतंकी घटना कारित करने का मंसूबा बना रहा है।

Advertisement

 

 

एटीएस फील्ड इकाई सहारनपुर ने सूचना का तकनीकी व भौतिक रूप से सत्यापन करने के बाद संदिग्ध व्यक्ति अहमद रजा को हिरासत में लेकर पूछताछ की गयी साथ ही उसके मोबाइल को भी चेक किया गया। मोबाइल की गैलरी में हथियारों की फोटोज़, चैट के स्क्रीन शॉट व जिहादी वीडियो मिले, जिनके सम्बंध में अहमद रज़ा कोई संतोष जनक उत्तर नहीं दे पाया और उसने अपना अपराध स्वीकार कर लिया।

 

एटीएस ने प्रेस नोट जारी करके दी यह जानकारी

अहमद रजा, पाकिस्तान व अफगानिस्तान में लड़ रहे विभिन्न जिहादी संगठन के मुजाहिदीनों से प्रभावित है।वह जिहादी सोच और कार्यवाहियों पर बहुत विश्वास करता है।

 

– अहमद ने हिन्दुस्तान में काफ़िरों व काफिर सरकार के खिलाफ जिहाद करके जम्हूरियत की सरकार को हटाकर शरिया कानून लाने को अपनी जिन्दगी का मकसद बना लिया था।

– अहमद हिजबुल मुजाहिदीन पीर पंजाल तंजीम से जुड़े हुए सीनियर मुजाहिद साथी फिरदौस, निवासी-
अनंतनाग, जम्मू & कश्मीर से लगातार सम्पर्क में था ।फिरदोस ने ही इसे हिजबुल मुजाहिदीन पीर पंजाल में शामिल होने की बैयत (शपथ) दिलवाई थी।

-हिन्दुस्तान में जिहाद करने एवं अपनी तंजीम को मजबूत बनाने के लिए इसे अपने सीनियर मुजाहिद साथियों (अमीरों) से ये हिदायत मिली थी कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को जिहादी बनाकर अपनी तंजीम से जोड़े।
इसके लिए अहमद रज़ा लोगो से मिलकर और सोशल मीडिया के जरिए HM में जुड़ने की दावत देता था और लोगों में हिंसात्मक जिहाद भरने के लिए सोशल मीडिया में जिहादी वीडियो पोस्ट करता था ।

• अहमद ने अपने मुजाहिद साथियों फिरदौस व पाकिस्तानी आतंकी हैंडलर के कहने पर अहमद दो बार श्रीनगर, अनंतनाग ,जम्मू & कश्मीर, हथियारों की ट्रेनिंग लेने गया था। उसने अपने आतंकी मंसूबों को पूरा करने के लिए ये अहसान गाजी की मदद से अफगानिस्तान जाकर बद्री कमांडो बनना चाहता था ।

एटीएस ने अहमद रजा के बारे में।जानकारी देते हुए कहा कि वह भारत के संविधान और सरकार को नहीं मानता, और विश्वास करता है कि एक न एक दिन हिन्दुस्तान में भी शरिया लागू होगा।गिरफ्तार अभियुक्त को नियमानुसार माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर PCR में लेने एवं मोबाइल फोन के डेटा एक्सट्रैक्शन हेतु FSL से संपर्क कर अग्रिम विधिक कार्यवाही की जा जाएगी। जम्मू कश्मीर के फिरदौस की शिनाख्त एवं गिरफ्तारी के भी प्रयास UP ATS प्रयास भी करेगी ।

 

अहमद के पास से  Ats ने यह बरामद किया

यूपी एटीएस ने अहमद के पास तीन सिम, दो मोबाइल , 1220 रुपये नकद बरामद किए है।

Ats ने इन धाराओं में दर्ज किया मुकदमा

थाना- एटीएस, लखनऊ पर  आरोपी अहमद पर  धारा-121ए / 123 व 13/18/18बी/38/39 विधि विरुद्ध (निवारण) अधिनियम 1967 तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

 

Related posts

प्रेमी का विवाह रुकवाने के लिए पीड़िता पहुंची एसएसपी दफ्तर , लगाए प्रेमी पर गंभीर आरोप ,

newsvoxindia

एमएलसी विधान परिषद सदस्य बनाए जाने पर बहोरन लाल मौर्य का हुआ जगह-जगह स्वागत

newsvoxindia

Vikram Vedha Vs Ponniyin Selvan: किसका जादू दर्शकों के सर चढ़ कर बोलेगा

newsvoxindia

Leave a Comment