News Vox India
नेशनलशहर

वेयरवुल्फ सिंड्रोम ने इस युवक की जिंदगी को बनाया बे-रंग , प्लास्टिक सर्जरी से जिंदगी सामान्य होने की उम्मीद। 

एमपी। रतलाम जिले में एक युवक ऐसा भी है जिसके चेहरे  पर लम्बे लम्बे बाल है। जिसे लोग हनुमान का रूप भी मानते है।  रतलाम जिले के गांव नांदलेट में वर्ष 2005 में एक बच्चे का जन्म हुआ था।  बच्चे के जन्म से उसके चेहरे और  शरीर पर लम्बे लम्बे बाल थे।  तब लोग उसे हनुमान का रूप मानकर उसकी पूजा करना शुरू कर दी थी।  बाद में लोगों  को बच्चे की उम्र के साथ स्थानीय लोगों को पूरी कहानी समझने में आने लगी।  दरसल यह बच्चा वेयरवुल्फ सिंड्रोम का शिकार था जिस कारण युवक के चेहरे और शरीर पर लम्बे लम्बे बाल होने लगे थे।

Advertisement

 

 

आज यह युवक 17 साल का है जिसे क्षेत्र में ललित पाटीदार के नाम से जाना जाता है।  वह अपने ही गांव के एक कॉलेज में इंटरमीडिएट के छात्र भी है। ललित को चेहरे पर लम्बे बाल होने से खाने पीने में परेशानी होती है।  उसके कुछ साथी  और बच्चे उसे बंदर कहकर पुकारते है।  और उसके साथ खेलने से भी परहेज भी करते है।  परिजनों ने ललित को कई डॉक्टरों को दिखाया  लेकिन उसे कोई भी डॉक्टर उसे इस दुर्लभ और लाइलाज बीमारी से निजात नहीं दिला सका।  लेकिन अब एक डॉक्टर ने ललित के परिवार को बताया कि ललित की आयु 21 वर्ष होने पर प्लास्टिक सर्जरी द्वारा सही किया जा सकता है।  ललित के परिवार को अब उसके 21 वर्ष के होने का इंतजार है।

ललित पाटीदार

 

गलत दवा से हो सकती है यह बीमारी

वेयरवुल्फ सिंड्रोम गलत दवा के इस्तेमाल से हो सकती है।  इसलिए दवाओं का सेवन करने से एक बार आप अपने डॉक्टर से जरूर सलाह ले।   बता दे कि यह बीमारी 20 लाख लोगों में किसी एक व्यक्ति को होती है।  यह बीमारी महिला और पुरुष दोनों में हो सकती है।  हालांकि देश में कितने लोग  इस सिंड्रोम से पीड़ित है इसका सटीक आंकड़ा देश में उपलब्ध नहीं होने की बात भी कही जा रही है।

 

 

Related posts

हर घर तिरंगा महाअभियान का शाहजहांपुर में होगा शानदार आगाज , चल रही है व्यापक तैयारियां 

newsvoxindia

बरेली की डेलापीर फल मंडी में यह है फलों के भाव ? देखे यह लिस्ट ,

newsvoxindia

बरेली की प्रियंका चौपड़ा ने अमेरिकन उपराष्ट्रपति कमला हैरिस का साक्षात्कार किया ,

newsvoxindia

Leave a Comment