News Vox India
नेशनलमनोरंजनयूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहरस्पेशल स्टोरी

शेरगढ़ नगर पंचायत का अनोखा मामला: अध्यक्ष बनने के लिए पिछड़ी जाति की महिला से की थी शादी, अब हुआ मुकदमा दर्ज,

बरेली। निकाय चुनाव में कई प्रत्याशी चुनाव हारे तो कई जीते तो कई चुनाव के बीच में बैठ गये। इस बीच चुनाव खत्म होते ही बरेली के शेरगढ़ में एक ऐसा मामला चर्चा में आया जब एक बहू को चुनाव में हार मिलने के चलते घर की चौखट से सुसरालजनों ने मारपीट करके उसे निकाल दिया । वही परेशान बहू की शिकायत पर पुलिस ने 7 सुसरालजनों पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया । पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए केस दर्ज करते ही मामले की जांच भी शुरू कर दी ।

Advertisement

 

महिला के मुताबिक शेरगढ नगर पंचायत में अध्यक्ष पद का आरक्षित हुआ तो इस पद पर चुनाव लड़वाने के लिए उse सामान्य जाति का परिवार पिछड़ी जाति की महिला को अपने घर की बहू बनाकर ले आया। जब उसे (बहू) को चुनाव में जीत नसीब नहीं हुई तो सुसराल पक्ष के लोगों ने महिला को मारपीट करके घर से निकाल दिया ।

 

हालांकि महिला ने मीडिया को यह भी बताया कि दो साल पहले भी उसके सुसरालजन उसे घर से निकाल दिया था। इस बार जैसे ही शीशगढ़ में नगर पंचायत अध्यक्ष की सीट पर आरक्षण बदला और सीट पिछड़ी जाति के लिए आरक्षित हुई तो सुसरालजन उसे उसके घर से वापस ले आये , पूरे चुनाव में उसका खानपान से लेकर रहने के साथ अच्छा व्यवहार किया । जब वह चुनाव हार गई तो उसे उसके सुसरालजनों ने उसे प्रताड़ित करने लगे और एक दिन उसे मारपीट करके घर से बाहर निकाल दिया।

सुसरालजनों ने उसे फंदा कसकर मारने की कोशिश की । पड़ोसियों को देखकर उसकी किसी तरह जान बच गई। पुलिस ने महिला की शिकायत पर सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया । इस केस में एक बात यह भी कमाल है कि महिला ने पति पर किसी भी तरह के आरोप नहीं लगाए है।

Related posts

भाजपा नेता पर धोखाधड़ी का आरोप , पीड़ित पहुंचा एडीजी दफ्तर ,

newsvoxindia

पोर्टल पर डेटा फीड के लिए वर्चुअल ओरियंटेशन प्रोग्राम लखनऊ में हुआ आयोजित ,

newsvoxindia

मिनी स्टेडियम में रेते के इस्तेमाल करने पर जेई निलंबित

cradmin

Leave a Comment