News Vox India
नेशनलराजनीतिशहरस्पेशल स्टोरी

चौकीदार के पिटाई का प्रकरण : एससी /एसटी संगठनों ने घटना पर दिखाया आक्रोश , प्रशासन से की कढ़ी कार्रवाई की मांग

मुनीब जैदी ,
बरेली : अनुसूचित जाति व जनजाति संगठनों ने घटना के विरोध में गुरूवार को  मोर्चा खोल दिया। वहीं दलित संगठन  प्रशासन की कार्रवाई से आक्रोशित  है उनका कहना कि चौकीदार को तहसील परिसर में होमगार्ड द्वारा लातो -घूंसो और बंदूक की बट से पीटना उसके बाद प्रशासन का हरकत में आना और कार्रवाई के नाम पर दोनों होमगार्ड का शांति भंग में सिर्फ चालान करना फिर उनको ज़मानत देना यह कहां का इंसाफ है। इसी को लेकर विभिन्न संगठनों ने एकजुट होकर जिलाधिकारी के माध्यम से  महामहिम राज्यपाल को संबोधित के  ज्ञापन सौंपा ।

 

 

 

 

अनुसूचित जाति व जनजाति संगठन के रमेश चंद्र व रणवीर सिंह ने कहा कि बीते मंगलवार दलित चौकीदार को जिस तरह दो होमगार्ड द्वारा पीटने की घटना का वीडियो वायरल हुआ उससे ऐसा लगता है कि एक दलित का उत्पीड़न किया जा रहा है। सरकारी परिसर में एक सरकारी व्यक्ति को दूसरे सरकारी व्यक्तियों द्वारा पीटना नियम के विरुद्ध है। उन्होंने कहा कि जबकि अत्याचरण अधिनियम 1989 के तहत ये कानून का उल्लंघन है जिसमें पांच से सात साल की सज़ा का प्रावधान भी है। ऐसे में दोनों होमगार्ड पर कार्रवाई के नाम पर सिर्फ शांति भंग में चालान किया गया और उनको ज़मानत दे दी।

 

 

उसमे किसी प्रकार का एससी-एसटी एक्ट भी लागू नहीं किया गया। जिसको लेकर संगठन में रोष हैं।  उन्होंने मांग की आरोपियों के विरुद्ध सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जाए।ज्ञापन देने वालों में समाजवादी बाबा साहब अंबेडकर वाहिनी, भारत रत्न बोधित्स्व बाबा साहब, अखिल भारतीय कठेरिया समाज के सदस्य मौजूद रहे।

 

राहुल गांधी ने घटना पर ट्वीट करके साधा निशाना 
वायरल वीडियो होने के बाद राहुल गांधी नें अपने ट्विटर हैंडिल अकाउंट  से  एक वीडियो पोस्ट की जिसमें हाथ में संविधान की किताब लेकर कहा भाइयों बहनों आप सब ने यह वीडियो देखा दुख हुआ दर्द हुआ और गुस्सा लगा… आगे उन्होंने कहा हमारे देशवासियो के साथ ये क्या किया जा रहा है अपने हाथ में लिये संविधान  की किताब दिखाते हुए कहा ये  संविधान है ये हिंदुस्तान के वंचित लोगों की रक्षा करता है आपकी रक्षा करता है। उन्होंने कहा बीजेपी और आरएसएस के लोग इसको मिटाना चाहते है जो वीडियो में हुआ वो हर रोज़ हर क्षण वंचित के साथ होगा।

 

 

 

यह  था मामला
नवाबगंज तहसील में जमीन की फर्द निकलवाने पहुंचे एक चौकीदार पर होमगार्ड ने अभ्रद टिप्पणी की। जिसके बाद तहसील गेट पर तैनात होमगार्ड और चौकीदार में कहासुनी हुई इस बीच दूसरा होमगार्ड भी मौके पर पहुंचा जिसके बाद दोनों नें चौकीदार को ज़मीन पर गिराकर अपने जूते के नीचे सर रखकर कुचलना शुरू किया जब इससे भी मन नहीं भरा तों पीटने के लिये बंदूक की बट का भी इस्तेमाल किया। हालांकि चौकीदार ने आरोपी होमगार्ड के खिलाफ थाना नवाबगंज पुलिस समेत मुख्यमंत्री को शिकायती पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की है।

Related posts

मंडलायुक्त ने शाहजहांपुर में विकास कार्यों का किया निरीक्षण , इलेक्ट्रिक बस पर बैठकर शहर का निरीक्षण किया ,

newsvoxindia

ट्रक की टक्कर में बाइक सवार घायल

newsvoxindia

बरेली में सीएम योगी  बोले  विकसित के लिए पीएम मोदी जरुरी ,  छत्रपाल और धर्मेंद्र कश्यप के लिए मांगे वोट ,

newsvoxindia

Leave a Comment