News Vox India
नेशनलयूपी टॉप न्यूज़राजनीति

आईएमसी और मुस्लिम मजलिस के प्रत्याशियों ने कराया नामांकन 

  • आईएमसी समर्थित प्रत्याशी फरहत खान ने कराया नामांकन 
बरेली।  मौलाना तौकीर रज़ा की पार्टी आईएमसी  ने बरेली लोकसभा सीट से प्रत्याशी आखिरकार उतार दिया ,हालांकि प्रत्याशी उतारने की बात से आईएमसी  नेताओं ने इंकार किया था।  वहीं ऑल इंडिया मुस्लिम मजलिस ने अपना प्रत्याशी उतारकर अपने मंसूबे भी साफ कर दिए। मुस्लिम मजलिस के उम्मीदवार मुख़्तार अहमद ने अंतिम दिन अपना नामांकन कराया। मुख़्तार ने भी अन्य उम्मीदवारों की तरह अपनी जीत का दावा किया है। मुख़्तार अहमद ने कहा कि उनकी पार्टी सबके विकास में विश्वास रखती है। वह चुनाव जीतकर क्षेत्र में बेरोजगारी की समस्या  करने का प्रयास करेंगे। पिछले दस सालों में बरेली विकास के मामले में बहुत पिछड़ गया है। वह अन्य प्रत्याशियों की तरह लंबे लंबे वादें नहीं करेंगे वल्कि उन्हें जमीन पर लाकर अमल करने का काम करेंगे। मुख़्तार अहमद के नामांकन के दौरान उनके समर्थक कलेक्ट्रेट अच्छी तादात में पहुंचे थे।
दूसरी ओर आई एम सी जिला अध्यक्ष फरहत खान ने अंतिम दिन  25 लोकसभा बरेली से नामांकन पत्र दाखिल किया। मीडिया प्रभारी मुनीर इदरीसी ने बताया की फरहत खान आईएमसी समर्थित प्रत्याशी है।  आई एम सी प्रमुख मौलाना तौकीर रज़ा खान साहब ने निर्देश जारी किए है कि  लोकसभा क्षेत्र की सभी विधानसभा के आई एम सी पदाधिकारी और कार्यकर्ता फरहत खान के चुनाव प्रचार के लिए घर घर जाकर मिले  चुनावों में अपने वोट की अहमियत समझें खुद की  ताकत बने , साजिशो को बेनकाब करें।
एक तरफ भाजपा की खुली तानाशाही है।  भाजपा का  अल्पसंख्यकों के खिलाफ  एजेंडा चल रहा है उसको नाकाम करना जरूरी है तो दूसरी तरफ वह कथित सेकुलर दल है जो आपका वोट तो चाहते है लेकिन आपके साथ नहीं  खड़े है ,मुस्लिम कयादत को खत्म करने की कोशिशें जारी हैऐसे लोगो से होशियार रहें जो आपके हमदर्द बनकर आपके वोट पर हक जता रहे है।  नामांकन में डॉक्टर नफीस खान,नदीम खान,मुनीर इदरीसी,अफजाल बेग,नदीम कुरैशी,मकदूम बेग,मौलाना एहसानुल हक चतुर्वेदी,तकदीरूल हसन,मुदस्सर मिर्जा,अल्तमश रज़ा आदि मौजूद  रहे।

Related posts

योगी सरकार के साढ़े चार साल : सरकार ने हर क्षेत्र में विकास कराया : अरुण कुमार सागर

cradmin

सुख समृद्धि प्राप्त करने के लिए गाय को खिलाएं हरी घास ,जानिए क्या कहते हैं सितारे,

newsvoxindia

धर्मपरिवर्तन करके शादी करवाने की महिलाओं ने रखा करबाचौथ का व्रत,

newsvoxindia

Leave a Comment