News Vox India
नेशनलराजनीतिशहर

आजम खान ने पीसी करके रामपुर प्रशासन को घेरा , बोले अखिलेश को भाजपा को बिना चुनाव कराये यह सीट दे देना चाहिए ,

मुजस्सिम खान , वरिष्ठ संवाददाता 
Advertisement

उत्तर प्रदेश के जनपद रामपुर की 37 विधानसभा सीट पर उपचुनाव हो रहे हैं ऐसे में सत्तारूढ़ भाजपा के दिग्गजों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया है जगह जगह नुक्कड़ सभाएं चल रही है तो वहीं दूसरी ओर अपने प्रत्याशी के समर्थन में सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान ने मोर्चा संभाल रखा है देर रात्रि में आजम खान पार्टी कार्यालय पर पहुंचे जहां पर उन्होंने प्रेस वार्ता कर जहां स्थानीय पुलिस पर निशाना साधा है तो वही विरोधियों पर तंज कसना  भी नहीं भूले।

 

 

 

सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान ने वर्ष 1980 में रामपुर की शहर विधानसभा सीट का चुनाव जीता था जिसके बाद वह 1996 में अपनी सीट कांग्रेस के अफरोज अली खान के हाथों गवा बैठे थे। तब से अब तक यह सीट उनके ही कब्जे में रही है शहर विधानसभा क्षेत्र में आजम खान की सियासत का जादू वोटों के सर चढ़कर बोल रहा है लेकिन 27 अक्टूबर को कोर्ट द्वारा उनको हेट स्पीच मामले में 3 साल की सजा सुनाई की जिसके बाद उनकी विधायकी रद्द हो गई। वह इस सीट पर 10 बार विधायक रह चुके हैं यही कारण है कि उनको अपने इस मजबूत किले को बचाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है ।

 

 

 

उन्होंने सपा के टिकट पर अपने करीबी आसिम राजा को चुनाव मैदान में उतारा है तो वही भाजपा ने आजम खान के धुर विरोधी आकाश सक्सेना हनी पर दांव खेला है। दोनों ही प्रत्याशियों आमना सामना चुनाव मैदान में है लेकिन सबसे अलग इस सीट पर जीत हासिल करने के लिए जहां अपने कैंडिडेट की ओर से सपा के आजम खान को अपना सियासी किला बचाए रखने के लिए कड़ी मेहनत करनी भरनी है तो वही भाजपा प्रत्याशी की हार जीत पूर्व केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी के अलावा पार्टी प्रदेश अध्यक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुकी है।

सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान देर रात्रि में पार्टी कार्यालय पहुंचे जहां पर वह लंबे समय से चली आ रही चुप्पी को तोड़ते हुए मीडिया से रूबरू हुए और पुलिस प्रशासन पर जनता के साथ  महिलाओं का उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। पुलिस प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए आजम खान ने पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव रालोद प्रमुख जयंत चौधरी और भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर के घोषित कार्यक्रम पर बोलते हुए कहा कि जब पुलिस प्रशासन द्वारा यहां पर इस तरह का माहौल पैदा कर दिया गया है तो अखिलेश यादव को यह सीट चुनाव आयोग से बात करने के बाद बिना चुनाव कराए भाजपा प्रत्याशी को दे देनी चाहिए। आजम खान ने अपनी पत्नी को भी प्रताड़ित करने का आरोप पुलिस पर लगाया है।

Related posts

मेष -मिथुन के जातकों को आज रखनी है कुछ सावधानियां , देखे आज का अपना राशिफल 

newsvoxindia

बरेली में शहीदों के नाम लगी महफ़िल , शायरों ने पढ़े एक से बढ़कर एक कलाम ,

newsvoxindia

रामगंगा घाट पर नौका तिरंगा मार्च में अधिकारियों ने किया प्रतिभाग ,

newsvoxindia

Leave a Comment