News Vox India
स्वास्थ्य

Curd Side Effects: भूलकर भी इन समस्याओं से परेशान लोग ना खाएं दही, बढ़ सकती हैं दिक्कतें

Curd Side Effects: भूलकर भी इन समस्याओं से परेशान लोग ना खाएं दही, बढ़ सकती हैं दिक्कतें

हमारे पेट और स्वास्थ्य के लिए दही का सेवन काफी फायदेमंद होता है. लेकिन कोई भी चीज हर स्थिति या हर किसी के लिए ठीक नहीं होती है. इसी तरह कुछ समस्याओं से परेशान लोगों के लिए दही का सेवन नुकसानदायक हो सकता है. आइए जानते हैं कि किन समस्याओं के अंदर दही का सेवन (Curd Side Effects) नहीं करना चाहिए.

Advertisement

इन समस्याओं से परेशान लोग ना खाएं दही (Curd Side Effects)आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. अबरार मुल्तानी का कहना है कि दही का सेवन हमारे पेट और पाचन के लिए बेहतरीन होता है. यह हमारे पेट के लिए फायदेमंद बैक्टीरिया को स्वस्थ रखता है. इसके साथ ही हड्डियों को मजबूत बनाने और बीपी को कम करने में मददगार होता है. लेकिन निम्नलिखित समस्याओं में दही का सेवन करने से बचना चाहिए.

ये भी पढ़ें: Hygiene Tips for Men: इन शारीरिक अंगों को साफ रखें पुरुष, वरना बाद में पछताना पड़ेगा

लैक्टोज इनटॉलरेंस – दूध, दही आदि डेयर उत्पादों में लैक्टोज (Lactose introlerance from curd) की मात्रा होती है. इस तत्व से कुछ लोगों को एलर्जी होती है, जिसे लैक्टोज इनटॉलरेंस कहा जाता है. इस समस्या से परेशान लोगों को दही का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए. वरना पेट दर्द व डायरिया के लक्षणों का सामना करना पड़ सकता है.

अर्थराइटिस का दर्द (harmful effects of curd) – हड्डियों और दांतों के लिए दही का सेवन फायदेमंद माना जाता है. लेकिन अर्थराइटिस के कारण हो रहे जोड़ों के दर्द में दही का नियमित सेवन करने से मनाही की जाती है. इसलिए जोड़ों के दर्द में रोजाना दही का सेवन नहीं करना चाहिए. वरना गंभीर दर्द का सामना करना पड़ सकता है.

ये भी पढ़ें: Bad Habits: इसी वक्त छोड़ दें ये गलत आदतें, आपको बनाती हैं बहुत गुस्सैल और चिड़चिड़ा

अस्थमा के रोगी – आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉ. अबरार मुल्तानी का कहना है कि अस्थमा के रोगियों को भी दही का बहुत ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए और रात के समय तो इससे दूर रहें. क्योंकि आयुर्वेद कहता है कि दही काफ दोष को असंतुलित कर सकती है. जिसके कारण म्यूकस गाढ़ा हो सकता है और सांस लेने में दिक्कत कर सकता है.

एसिटीडी की समस्या – जिन लोगों को एसिडिटी की समस्या रहती है, वह भी दही का रात में सेवन करने से बचें. क्योंकि, रात में दही का सेवन आपके पाचन क्रिया को धीमा कर सकता है, जिसके कारण एसिडिटी व सीने में जलन की समस्या हो सकती है.

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.

Share this story

Related posts

जिलाधिकारी ने शेल्टर होम सहित  साथ नारी निकेतन का किया निरीक्षण , सब व्यवस्थाएं मिली दुरुस्त 

newsvoxindia

भागती दौड़ती ज़िंदगी और तनावपूर्ण जीवन ही है कैंसर का कारण

cradmin

गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल कैंसर के बारे में मैक्स अस्पताल ने फैलाई जनजागरूकता ,कहा लक्षण देखते डॉक्टर से करें संपर्क,

newsvoxindia

Leave a Comment