News Vox India
शहर

विशाल हत्याकांड  दोनों हत्यारोपियों को गिरफ्तारकर जेल भेजा,

फतेहगंज पश्चिमी।। मीरगंज थाना क्षेत्र के गांव गूला का रहने वाला विशाल बीती 6 सितम्बर को दोपहर गायब हो गया था मृतक के पिता ने अपने बेटे की दूसरे दिन गुमशुदगी थाना फतेहगंज पश्चिमी में दर्ज कराई थी ।पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज करते ही जांच शुरू कर दी थी ।थाना पुलिस ने मृतक विशाल का मोबाइल सर्विलांस की मदद से धनेटा पर मोटरसाइकिल संभालने की दुकान से बरामद कर लिया था ,इसी दौरान दो लोगों के नाम प्रकाश में आए थे ।

Advertisement

 

 

अपराध निरीक्षक अनिल कुमार ने अपनी टीम के दरोगा धर्मेंद्र सिंह व दरोगा अरविंद कुमार को चेकिंग करने के लिए शीशगढ़ रोड़ पर भेज दिया ।चेकिंग के दौरान पुलिस ने शीशगढ़ रोड़ के गांव भिटौली से दोनों को हिरासत में लेकर उनसे कड़ी पूछताछ की विशाल हत्याकांड का खुलासा हुआ। पुलिस पूछताछ में हत्या आरोपी ने अपना नाम नरेंद्र पुत्र महेंद्र पाल निवासी धनेटा थाना फतेहगंज पश्चिमी व रामबाबू पुत्र ईश्वरी प्रसाद निवासी गांव धनेटा फतेहगंज पश्चिमी पर अलग अलग थाने में लूट सहित कई मुकदमे दर्ज हैं।

 

फ़ाइल फोटो मृतक

बताया पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया हम लोगों ने विशाल की हत्या कर थाना बहेड़ी के गांव पिंडारी के जंगल में गन्ने के खेत में शव फेंक  दिया था।थाना पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर विभिन्न धाराओं में मुकदमा की दर्ज कर आरोपियों को जेल भेज दिया।आरोपियों को गिरफतार करने वाली टीम में क्राइम इंस्पेक्टर अनिल कुमार दरोगा धर्मेन्द्र सिंह व अरविन्द कुमार के साथ पुलिस फोर्स साथ रहा।

थाना प्रभारी ललित मोहन ने बताया कि मामूली रुपये के लेन देन के चलते बाइक मैकेनिक के द्वारा अपने साथियों के साथ अपनी ही दुकान पर काम सीखने आने वाले किशोर विशाल दिवाकर की हत्या करने के मामले में पुलिस ने पिता रामसिंह की तहरीर पर दो लोगो के खिलाफ हत्या और एसीएसटीएक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करके पुलिस ने दोनो को गिरफ्तार कर गांव धनेटा निवासी नरेन्द्र कुमार की धनेटा फाटक पर बाइक संभालने की दुकान है।

 

 

 

थाना मीरगंज के गांव गूला निवासी विशाल दिवाकर(16) दुकान पर बाइक संभालना सीखने आता था। विशाल के पिता रामसिंह ने बताया छह सितंबर को वह दुकान से आकर घर चला गया।लेकिन दोपहर के बाद नरेन्द्र कुमार ने उसे फोन करके बुला लिया।अपने गांव के ही रामबाबू के साथ मिलकर उसकी हत्या करके उसके शव को बहेड़ी क्षेत्र के गांव पिंडारी के जंगल में गन्ने के खेत में फेक दिया था।विशाल के घर नही पहुँचने पर परिजनों ने सात सितम्बर को गुमशुदगी दर्ज कराई।

 

 

पुलिस ने मोबाइल लोकेशन और परिजनों के कहने पर नरेन्द्र कुमार और रामबाबू को शनिवार को गिरफ्तार कर शख्ती से पूछताछ की तो दोनो ने हत्या करने की बात पुलिस को बताई।शनिवार देर शाम पुलिस दोनों की निशानदेही पर शव को बरामद करके ले आयी थी।सोमवार को पुलिस ने पिता रामसिंह की तहरीर पर दोनो के खिलाफ अपरहण करने के बाद हत्या करने की रिपोट दर्ज कर दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया।

Related posts

ट्रेन की चपेट में आने से यात्री हुआ घायल , रेलवे सुरक्षा बल ने अस्पताल पहुंचाया

newsvoxindia

मुरादाबाद में भारत बंद रहा बेसर ,  चप्पे -चप्पे पर पुलिस रही तैनात ,

newsvoxindia

स्कूल से घर लौट रही छात्रा को  ट्रक ने रौंदा ,  अस्पताल ले जाते समय छात्रा की हुई मौत ,

newsvoxindia

Leave a Comment