News Vox India
यूपी टॉप न्यूज़राजनीतिशहर

प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी ने भाजपा के क्षेत्रीय मीडिया सेंटर का  किया उद्घाटन ,

सपा -कांग्रेस पर जमकर बोला हमला 
Advertisement
आरक्षण के मुद्दे पर सपा-कांग्रेस को घेरा 
बरेली। ।  भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह चौधरी ने शनिवार को बरेली में भाजपा के क्षेत्रीय मीडिया सेंटर का उद्घाटन किया। उन्होंने कांग्रेस की तुष्टिकरण की नीति और एससी, एसटी एवं ओबीसी की हक मारने की मंशा पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन के एजेंडे में पिछड़ा वर्ग,अनुसूचित जाति और जनजाति का हक छीनकर एक वर्ग विशेष को देना है। ये मजहबी आरक्षण देकर गरीबों, पिछड़ों और अनुसूचित जाति और जनजातियों के हक की लूट करने की मंशा रखते हैं।
कर्नाटक में इंडी गठबंधन ने इसकी शुरुआत भी कर दी है। प्रदेश की जनता को इनके मंसूबों को समझना होगा और इनका बोरिया बिस्तर समेट कर इनको घर लौटा देना है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री भूपेन्द्र सिंह चौधरी ने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के समय तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दिसंबर 2006 में नेशनल डेवलपमेंट काउंसिल को संबोधित करते हुए कहा था कि हमें यह सुनिश्चित करने के लिए नवीन योजनाएं बनानी होंगी, जिसमें अल्पसंख्यकों, विशेषकर मुस्लिम अल्पसंख्यकों को विकास के लाभों में समान रूप से साझा करने के लिए सशक्त बनाया जाए और संसाधनों पर उनका पहला दावा होना चाहिए।
2009 में भी तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने मुंबई में एक प्रेस वार्ता के दौरान इसी बयान को फिर दोहराया था। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस की नीतियां भी इसी एजेंडे को लागू करने की रही हैं। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार ने राष्ट्रीय धार्मिक और भाषाई अल्पसंख्यक आयोग का गठन कर मुस्लिमों को भी जातियों में बांटने की साजिश की। कांग्रेस ने यह भी साजिश रची कि अगर कोई धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम बनता है, तो उसका अनुसूचित जाति का दर्जा बना रहे, साथ ही पिछड़ा वर्ग के 27 प्रतिशत आरक्षण में से 6 प्रतिशत काटकर मुस्लिमों को आरक्षण दिया गया। श्री चौधरी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की सरकार ने कोर्ट के कानून को बदलकर एएमयू, जामिया-मिलिया जैसे संस्थानों में पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति और जनजाति के आरक्षण को भी समाप्त किया। 1981 में कांग्रेस ने पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति और जनजाति के आरक्षण को छीनने के लिए एएमयू (संशोधन) अधिनियम लाकर न्यायालय के फैसले को बदल दिया।
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 2014 के चुनावी घोषणापत्र में भी कांग्रेस ने यही सब बातें कही थी और 2024 में भी फिर से वही वादे कर रही है। कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में लिखा है कि देश में बहुसंख्यकवाद के लिए कोई स्थान नहीं है, मतलब कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र से स्पष्ट कर दिया है कि कांग्रेस को पिछड़ा वर्ग, अनुसूचित जाति और जनजाति से कितनी नफरत है।इस अवसर पर प्रदेश अध्य्क्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह, वन मंत्री डॉ अरुण कुमार सक्सेना, बरेली लोकसभा प्रत्याशी छत्रपाल सिंह गंगवार, जिला प्रभारी चौधरी देवेंद्र सिंह, जिला अध्य्क्ष पवन शर्मा, महानगर अध्य्क्ष अधीर सक्सेना, मेयर उमेश गौतम, विधायक संजीव अग्रवाल, विधायक डॉ डी सी वर्मा, अनिल सक्सेना, दीपक सोनकर, सशि भूषण सक्सेना, मीडिया प्रभारी अंकित माहेश्वरी व बंटी ठाकुर, वीरपाल गंगवार, राहुल साहू, अभय चौहान आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Related posts

शांतिपूर्ण  माहौल में अदा हुई अलविदा की नमाज,  पुलिस रही मुस्तैद,

newsvoxindia

आज हर्षण योग करेगा हर कार्य को सफल -करें भगवान शिव की पूजा ,जानिए क्या कहते हैं सितारे,

newsvoxindia

सपा प्रत्याशी संजीव का टिकट वापस होते ही डॉक्टर तोमर के घर समाजवादी नेताओं की जुड़ी भीड़ , देखे यह फोटो,

newsvoxindia

Leave a Comment