News Vox India
शहर

मंडलायुक्त ने बदायूं के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर दिए  अधिकारियों को आवश्यक निर्देश ,

 

खबर सोर्स : सूचना  विभाग 

Advertisement

बदायूं /बरेली : सीएम  योगी आदित्यनाथ के आदेश पर बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के लिए कमिश्नर संयुक्ता समद्दार बदायूं पहुंची । उनके दौरे के दौरान डीएम बदायूं दीपा रंजन सहित कई अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। बताया जाता है कि  जब मंडलायुक्त की अत्यधिक पानी की वजह से मौके पर गाड़ी पहुंचना मुश्किल हुआ  तो वह नाव व अन्य साधनों से बदायूं के दातागंज क्षेत्र में बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का जायजा लेने के लिए पहुंची । दातागंज क्षेत्र के दस गांव बाढ़ की वजह से प्रभावित हैं। उनका जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। कमिश्नर बरेली ने गांव को जिला मुख्यालय से जोड़ने वाली मानिकपुर, त्रिलोकपुर की पुलिया को तीन दिन में निर्माण करने के आदेश लोक निर्माण विभाग के अफसरों को दिए हैं। जिससे कि गांव का मुख्यालय से संपर्क जोड़ा जा सके। उन्होंने गांव के लोगों की समस्याओं को देखते हुए उनके लिए नाव की व्यवस्था कराई है। जिससे कि उनका आवागमन बना रहे और जरूरत की चीजें गांव के लोगों को मुहैया कराई जा सके।

 

 

 

 

 बाढ़ प्रभावित गांवों में घर घर जाएं स्वास्थ्य विभाग की टीमें

कमिश्नर ने दातागंज बदायूं रोड वाया तिलहर जैतीपुर रोड पर बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीड़ितों से अधिकारी संपर्क बनाए रखें। उन्हें खाने पीने की किसी भी तरह की दिक्कत ना हो। कमिश्नर ने सीएमओ बदायूं को आदेश दिया कि वह बाढ़ प्रभावित गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीमों को प्रतिदिन भेजें। किसी भी तरह की बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में रहने वाले लोगों को दिक्कत नहीं आनी चाहिए। उनकी बीमारी स्वास्थ्य संबंधी सभी समस्याओं का समाधान कराएं।

 

 

महावा नदी पर संपर्क मार्ग बनने से मुख्यालय से जुड़ेंगे पांच गांव

पिछले दिनों आई बाढ़ से सहसवान कछला मार्ग पर तोफी   नगला के पास महावा नदी का पुल बना है। बाढ़ और भारी बारिश की वजह से पुल का एप्रोच मार्ग टूट गया है। इसकी वजह से करीब 5 गांव के लोगों को दिक्कत हो रही है। उनका जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। कमिश्नर के आदेश पर सेतु निगम के परियोजना प्रबंधक बीके मौर्य ने ठेकेदार को निर्देश दिए कि वह जल्द से संपर्क मार्ग को ठीक करें। बाढ़ से जगह-जगह संपर्क मार्ग टूट गया है । उसको दुरुस्त किया जा सके। लोगों का संपर्क जिला मुख्यालय से बना रहे।

 

आलू प्याज नमक जरूरत की चीजें गांव तक पहुंचें

कमिश्नर ने संबंधित एडीएम, एसडीएम, सीएमओ को निर्देश दिए कि वह बाढ़ प्रभावित गांवों का अपनी टीमों के साथ दौरा करें। जहां तक गाड़ी नहीं पहुंच पा रही है। नाव से बाढ़ प्रभावित गांव में जाएं। गांव के लोगों की दैनिक जरूरत की वस्तुएं आलू प्याज नमक तेल अन्य चीजों को  मुहैया कराएं। किसी भी तरह की लोगों को समस्याएं नहीं होनी चाहिए। दैनिक जरूरत की सभी चीजों को गांव तक पहुंचाने की जिम्मेदारी प्रशासन की है। कमिश्नर ने डीएम समेत अफसरों के साथ गांव के दातागंज तहसील क्षेत्र के रामपुर, मौजमपुर, शेरपुर, गढ़िया पैगंबरपुर, नवादा, मदन लालपुर, खादर, कुंडला मजरा के आसपास कई गांव का जायजा लिया। बाढ़ से करीब 309 हेक्टेयर कृषि योग्य जमीन प्रभावित हुई है। 5040 से ज्यादा लोग बाढ़ की चपेट में आए हैं. उनका जनजीवन अस्त व्यस्त हुआ है। उसको सुधारने के निर्देश दिए गए हैं।

Related posts

साध्य योग में भगवान सूर्य की पूजा कर करें -समस्त बाधाओं को शांत, जानिए क्या कहते हैं सितारे,

newsvoxindia

स्वार विधानसभा उपचुनाव में आजम का दिखा नया रूप, बातों बातों में कांग्रेस के साथ भाजपा को लिया निशाने पर ,

newsvoxindia

बरेली की  डेलापीर सब्जी मंडी में यह है सब्जियों के दाम , देखें यह लिस्ट 

newsvoxindia

Leave a Comment