News Vox India
शहरशिक्षा

रोक के बाद भी संजरपुर में सरकारी स्कूल में ठहराई जा रही है बारात

मीरगंज।आमतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में होने वाली शादियों पर मेहमानों के अलावा बारातियों के ठहरने की व्यवस्था गांव में स्थित विद्यालयों में कर दी जाती है।हालांकि किसी भी सरकारी विद्यालयों में बारात नहीं ठहराने का सरकार व शिक्षा विभाग का स्पष्ट आदेश है। ऐसा ही एक मामला मीरगंज विकास खंड के गांव संजरपुर स्थित माध्यमिक विद्यालय में रविवार की रात देखने को मिला, जहां गांव में आई एक बारात को संजरपुर स्थित माध्यमिक विद्यालय में ठहराया गया। विद्यालय में ठहरी बारात की सोमवार की सुबह उस वक्त विदाई हुई जब बच्चे वहां पढ़ने के लिए सुबह पहुंचे।

Advertisement

 

 

 

इसके अलावा परिसर में गंदगी भी फैली रही। बीएसए इसको लेकर पहले ही आदेश जारी कर चुके है। जिसमें परिषदीय स्कूलों में बारात ठहरने पर कार्रवाई के आदेश दिए गए। इसके बावजूद स्कूलों में बरात का ठहराव न रुकने से आदेश हवा हवाई साबित हुआ। बीएसए की ओर से जारी नए आदेश में बारात के स्कूलों में ठहरने पर इंचार्ज अध्यापक पर कार्रवाई की जाएगी।

 

 

 

ग्रामीण क्षेत्रों में बरात रुकने के लिए बरातघर एवं होटल आदि की व्यवस्था नहीं है। ऐसे में अधिकांशत: लोग स्कूलों में ही बरात के ठहरने की व्यवस्था करते हैं। कई सालों से यह क्रम चला आ रहा है। स्कूलों में पर्याप्त जगह मिलने के साथ बरसात आदि से बचाव को देखते हुए अभी भी परिषदीय स्कूलों में ही बारात के ठहरने का इंतजाम करते हैं। बारात के ठहरने के बाद दूसरे दिन सुबह बारात के न जाने से शिक्षण कार्य प्रभावित होता है। इसको लेकर गत वर्ष बीएसए ने स्कूलों में बारात ठहरने पर सख्त मनाही कर स्टाफ का कार्रवाई की चेतावनी दी थी। इस समय शादी बारात का सीजन चल रहा है।

 

स्कूलों में बारात के ठहराने की व्यवस्था भी की जा रही हैं। बीएसए के आदेश का स्कूल स्टाफ पर कोई असर नहीं दिख रहा है।संजरपुर के ग्रामीण शिव कुमार ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत की है। पूर्व माध्यमिक विद्यालय संजरपुर में जमकर शराब पार्टी हुई है इस दौरान लोगों ने जमकर शराब के नशे में डीजे पर जमकर डांस किया।और बारातियों ने दारू पार्टी की जिससे गंदगी फैली रही।

 

 

 

राजेश कुमार खंड शिक्षा अधिकारी ने बताया किसी भी सरकारी विद्यालय में बारात ठहराने जैसे किसी भी कार्य को करने पर स्पष्ट रोक है। अगर ऐसा हुआ है तो जांच करा विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

क्या कहती है प्रधानाध्यापक अजरा परवीन ने बताया में तीन दिन से ट्रेनिंग पर हूं मुझे जानकारी नही है।सुबह जब सहायक अध्यापक पंकज पहुंचे थे लेकिन वहां कुछ नही मिला।स्कूल की बाउंड्री वाल भी नही है।यह सब राजनीतिक की बजह से ड्रामा हो रहा है।

Related posts

युवती ने गैर समुदाय के युवक पर लगाए गंभीर आरोप , जानिए क्या क्या है युवती के आरोप ,

newsvoxindia

राम को मिला वनवास, भरत को आघात, आज की रामलीला में यह रहा खास

newsvoxindia

रामपुर – मुश्किलों में घिरी जयप्रदा, हाजिर नहीं होने पर हो सकती है कुर्की की कार्रवाई

newsvoxindia

Leave a Comment